प्रियंका गांधी के साथ सेल्फी पर भड़की योगी सरकार, महिला पुलिसकर्मियों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

प्रियंका गांधी के साथ सेल्फी लेना पड़ा भारी, महिला पुलिसकर्मियों के खिलाफ कमिश्नर ने बिठाई जांच, प्रियंका बोलीं- अगर मेरे साथ तस्वीर लेना गुनाह है तो इसकी सजा भी मुझे मिले

Updated: Oct 21, 2021, 03:20 PM IST

प्रियंका गांधी के साथ सेल्फी पर भड़की योगी सरकार, महिला पुलिसकर्मियों पर लटकी कार्रवाई की तलवार
Photo Courtesy: Twitter

लखनऊ। 'लड़की हूं... लड़ सकती हूं' के स्लोगन और महिला शक्ति को 40 फीसदी टिकट देने का ऐलान के साथ प्रियंका गांधी ने यूपी चुनाव का आगाज किया है। प्रियंका के इस ऐलान के बाद महिलाओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। इसकी बानगी कल आगरा जाते वक्त भी दिखी जब प्रियंका को रोकने पहुंची महिला पुलिसकर्मियों में उनके साथ तस्वीरें लेने की होड़ लग गई। हालांकि, अब खबर आई है कि इन महिलाओं के खिलाफ योगी सरकार कार्रवाई करने की तैयारी में है।

दरअसल, प्रियंका गांधी कल पुलिस हिरासत में मारे गए अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मिलने आगरा जा रहीं थीं। इस दौरान पुलिस ने उन्हें बीच रास्ते में ही आगरा टोल पर रोक दिया था। प्रियंका को रोकने के लिए वहां बड़ी संख्या में महिला पुलिसकर्मी भेजे गए थे। हालांकि, यहां कुछ और ही नजारा देखने को मिला। महिला पुलिसकर्मी प्रियंका के साथ खींचतान करने के बजाए उनके साथ गले मिलते और सेल्फी लेते दिखीं।

यह भी पढ़ें: प्रियंका गांधी ने की पीड़ित परिवार से मुलाकात, कहा, गरीबों को नहीं मिलता यूपी में न्याय

प्रियंका गांधी के साथ महिला पुलिसकर्मियों का यह व्यवहार और तस्वीरें देशभर में चर्चा का विषय बनी हुई थी। लोग इसे नारी शक्ति कि एकजुटता के तौर पर देख रहे थे। इस दौरान महिला पुलिसकर्मियों ने प्रियंका को रोकने का अपना दायित्व भी निभाया और प्रियंका वहां रुकी रहीं। बाद में सरकार आखिरकार बैकफुट पर आई और प्रियंका को पीड़ित परिजनों से मिलने की इजाजत भी मिली। 

हैरानी की बात ये है कि सरकार ने अब प्रियंका के साथ दोस्ताना व्यवहार करने वाली महिलाओं के खिलाफ करवाई करने का निर्णय लिया है। प्रियंका गांधी ने इसपर कहा है कि, 'इस तस्वीर से योगी जी इतने व्यथित हो गए कि इन महिला पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही करना चाहते हैं। अगर मेरे साथ तस्वीर लेना गुनाह है तो इसकी सजा भी मुझे मिले, इन कर्मठ और निष्ठावान पुलिसकर्मियों का कैरियर ख़राब करना सरकार को शोभा नहीं देता।' 

जानकारी के मुताबिक कमिश्नर ने महिलाओं के खिलाफ जांच बिठा दिया है। पुलिस कमीशनर का कहना है कि ड्यूटी के दौरान इस तरह के कार्य अनुशासनहीनता की श्रेणी में आते हैं। लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने डीसीपी मध्य ख्याती गर्ग को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। उधर पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर का कहना है कि ड्यूटी छोड़ना और सेल्फी लेना गंभीर मामला है। लिहाजा माना जा रहा है कि राजनीतिक बदले की कार्रवाई में महिला पुलिसकर्मियों की मुश्किलें बढ़ सकती है।