प्रियंका गांधी ने की पीड़ित परिवार से मुलाकात, कहा, गरीबों को नहीं मिलता यूपी में न्याय

प्रियंका गांधी ने मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है, साथ ही उन्होंने कहा है कि वे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से पीड़ित परिवार को मुआवजा देने के लिए बात करेंगी, क्योंकि पीड़ित परिवार का नाता राजस्थान के भरतपुर से भी है

Publish: Oct 21, 2021, 09:17 AM IST

प्रियंका गांधी ने की पीड़ित परिवार से मुलाकात, कहा, गरीबों को नहीं मिलता यूपी में न्याय
Photo Courtesy: Aaj Tak

आगरा। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने बुधवार देर रात अरुण वाल्मीकि के घर पहुंच कर पीड़ित परिवार से मुलाकात की। प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार का दर्द बांटा। इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के उनकी लड़ाई लड़ने का भरोसा दिलाया। वहीं उन्होंने पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत से बात करने की भी जानकारी दी। 

प्रियंका गांधी ने अरुण वाल्मीकि के परिवार से बात करने के बाद योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं, दलितों, किसानों और गरीबों को न्याय नहीं मिलता। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि यहां न्याय सिर्फ मंत्री के पद पर बैठे लोगों और उनके अपराधी बेटों के लिए है। 

प्रियंका गांधी ने कहा कि यह सोचकर ही मन सिहर उठता है कि आखिर आजाद भारत में ऐसा कैसे हो सकता है? कांग्रेस नेता ने कहा कि वे पिछले दो सालों से यूपी में काम कर रही हैं, और उन्होंने इतने समय में यही देखा है कि गरीबों के लिए यहां पर न्याय की व्यवस्था नहीं है। 

यह भी पढ़ें : यूपी पुलिस ने प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया, आगरा जाने से रोका

अरुण वाल्मीकि की पुलिस हिरासत मौत मामले में प्रियंका गांधी ने कहा कि अरुण वाल्मीकि की पीट पीटकर हत्या की गई है। मंगलवार देर रात दो बजे मृतक के भाई ने उससे मुलाकात की थी। तब तक मृतक पूरी तरह से स्वस्थ्य था। लेकिन अचानक ही पुलिस ने बताया कि तबीयत खराब होने के कारण उसकी मौत हो गई।

 प्रियंका ने कहा कि पोस्टमार्टम के वक्त परिवार के एक भी सदस्य की वहां मौजूदगी नहीं थी। मृतक के भाई को एक तहरीर दिखाकर उनके दस्तखत कराए गए। मृतक के भाई पढ़ नहीं पाते हैं। कांग्रेस नेता ने कहा है कि पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने के लिए वे राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत से बात करेंगी। क्योंकि पीड़ित परिवार का नाता राजस्थान के भरतपुर से भी है। 

यह भी पढ़ें : आगरा में पुलिस कस्टडी में हुई दलित युवक की मौत, प्रियंका गांधी ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग

इससे पहले प्रियंका गांधी समेत यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय लल्लू, आचार्य प्रमोद कृष्णम को पुलिस ने आगरा जाने से रोक लिया था। प्रियंका गांधी समेत अन्य नेताओं को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था। लेकिन बाद में प्रियंका गांधी को आगरा जा कर पीड़ित परिवार से मुलाकात करने की इजाजत दे दी गई।