डस्टबिन में वोट डालने पर मिलेगा एक करोड़ कैश, सोना, मकान, हेलीकॉप्टर, रोबोट, कार और चांद की सैर का मौका

तमिलनाडु के स्वतंत्र उम्मीदवार सर्वनन ने खोला घोषणाओं का पिटारा, अगर जनता उन्हें चुनती है तो सभी को Iphone, कार, रोबोट, तीन मंजिला मकान समेत कई चीजें देने का वादा

Updated: Mar 25, 2021, 08:00 PM IST

डस्टबिन में वोट डालने पर मिलेगा एक करोड़ कैश, सोना, मकान, हेलीकॉप्टर, रोबोट, कार और चांद की सैर का मौका
Photo Courtesy : NDTV

मदुरै। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की तारीखें नजदीक आते ही सभी पार्टियों के नेता लोगों से बड़े-बड़े वादे करने में जुट गए हैं। सभी राजनीतिक दलों ने अपने-अपने घोषणापत्र में वादों की झड़ी लगा दी है। इसी बीच तमिलनाडु के एक निर्दलीय उम्मीदवार ने जनता के लिए ऐसे घोषणाएं की हैं कि सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। इस उम्मीदवार ने सभी को एक करोड़ रूपए कैश से लेकर हेलीकॉप्टर तक इतना सबकुछ देने का ऐलान किया है कि क्षेत्र के लोग यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि वे खुशी से नाचें या अपना सर पीटें।

थुलम सर्वनन तमिलनाडु के मदुरै से निर्दलीय उम्मीदवार हैं। 6 अप्रैल को उनके विधानसभा में वोटिंग है, इसके पहले उन्होंने लोगों से वोट देने की अपील करते हुए अपना मुख्य वचनपत्र जारी किया है। सर्वनन ने ऐलान किया है कि चुनाव जीतने के बाद वह अपने क्षेत्र के हर घर के लिए एक मिनी हेलीकॉप्टर, एक करोड़ रुपये सालाना डिपोजिट, शादियों में लड़कियों को 800 ग्राम के सोने के जेवरात और तीन मंजिला फर्स्ट क्लास सुविधाओं से लैश इमारत देंगे। इस इमारत में स्विमिंग पूल की भी व्यवस्था होगी।

इसके अलावा वह अपने क्षेत्र में जिस तरह की बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराएंगे उसमें शामिल हैं एक अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र, रॉकेट का लॉन्च पैड और 300 फ़ीट की ऊंचाई पर एक कृत्रिम आइसबर्ग (हिम पहाड़) ताकि दक्षिण मदुरै के उसके विधानसभा क्षेत्र के लोगों को गर्मी से छुटकारा मिल सके। इतना ही नहीं गृहणियों को अपने पक्ष में साधने उन्होंने एक नायाब स्कीम लाने का वादा किया है जिसके तहत उन्हें एक रोबोट दिया जाएगा। यह रोबोट उन्हें उनके दैनिक काम में हाथ बंटाएगा। 

युवाओं को साधने के लिए इस निर्दलीय उम्मीदवार ने तो कोई कसर ही नहीं छोड़ी है। उन्होंने कहा है कि युवाओं को एक आईफोन और हर साल 100 दिनों के ट्रिप पर ले जाया जाएगा। यह ट्रिप भी थाईलैंड बैंकॉक नहीं बल्कि डायरेक्ट चांद का होगा। जी हां, वे युवाओं को चांद का सैर कराएंगे। चूंकि सर्वनन की उम्र महज 34 साल है,  उनका कहना है कि वह राजनीति में युवाओं की भागीदारी को बढ़ावा देंगे और उन्हें अगर युवाओं का साथ मिलता है तो वे उन्हें हर सेक्टर में आगे बढ़ाएंगे।

डस्टबिन में डालें वोट

खास बात यह है कि सर्वनन का घोषणापत्र जितना दिलचस्प है उतना ही दिलचस्प उनका चुनाव चिन्ह है। सर्वनन का चुनाव चिन्ह डस्टबिन है। सर्वनन के वोट मांगने का तरीका तो और भी दिलचस्प है। उन्होंने अपने क्षेत्र के मतदाताओं से अपील किया है कि वे यदि बिना रिश्वत और बिना भ्रष्टाचार के रोबोट, हेलीकॉप्टर, पैसे और जेवरात चाहते हैं तो डस्टबिन में वोट डालिए।

क्या है मुख्य उद्देश्य?

दरअसल, सर्वनन के इस अव्यवहारिक घोषणापत्र जारी करने के पीछे का मुख्य मकसद जनता को देश के सियासतदानों का असली चेहरा दिखाना है। उनका कहना है कि जिस तरह चुनाव के दौरान कुछ राजनीतिक दल और नेता, वोटर्स को किसी वस्तु या पैसों का लालच देते हैं, लेकिन कोई भी स्वच्छ हवा, शुद्ध पानी या गारंटी से रोजगार देने का वादा नहीं करता है। ऐसे नेताओं की राजनिति प्रदूषित हो चुकी है। चुनाव के दौरान नेता मतदाताओं को लुभाने के लिए सिर्फ लालच देते हैं, जिस वजह से जुमलों में फंसकर लोग सही नेता का चुनाव नहीं कर पाते हैं।

सर्वनन ने चुनावी घोषणा पत्र में अव्यावहारिक वादों के बारे में बात करते हुए कहा की पिछले 50 सालों में राजनीतिक दलों ने कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा करके चुनाव जीते हैं। उनकी सरकारों ने कभी भी आम लोगों की सेवा नहीं की। लोगों में जागरूकता लाने के लिए मैंने एक ऐसा चुनावी घोषणा पत्र जारी किया है, जो पूरी तरह अव्यावहारिक तो है, क्योंकि दुनिया के किसी भी आदमी ने ऐसा नहीं किया है। लेकिन झूठे नेता इससे बेनकाब होंगे और झूठ बोलने में डरेंगे।