Greg Chapell: एमएस धोनी को पसंद नहीं थी टीम में राजनीति

MS Dhoni: गुरु ग्रेग चैपल ने महेंद्र सिंह धोनी के बहाने पूर्व कप्तान सौरव गांगुली पर कसा तंज, कोच रहते बिगड़े थे ग्रेग चैपल और सौरव गांगुली के रिश्ते

Updated: Aug 28, 2020 10:54 PM IST

Greg Chapell: एमएस धोनी को पसंद नहीं थी टीम में राजनीति
Photo Courtesy: scroll.in

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच ग्रेग चैपल ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की जमकर तारीफ की है। चैपल ने धोनी को पिछले पचास वर्षों के क्रिकेट इतिहास के सबसे प्रेरणादायी क्रिकेटरों में से एक बताया है। इसके साथ ही गुरु ग्रेग ने कुछ ऐसा कहा है जिससे एक नया विवाद जन्म ले सकता है। 

गुरु ग्रेग ने धोनी की तारीफ करते करते हुए आंशिक तौर पर टीम इंडिया के किसी खिलाड़ी पर निशाना साधा है। ग्रेग चैपल ने धोनी की प्रशंसा का पुल बांधते हुए कहा है कि टीम में खेलने के दौरान धोनी राजनीति में यकीन नहीं करते थे, उन्हें सीधे और साफ बातें कहना पसंद था। चैपल के इस बयान का अर्थ पूर्व कप्तान और बीसीसीआई चीफ सौरव गांगुली की आलोचना माना जा रहा है।

दरअसल चैपल जब टीम इंडिया के कोच हुआ करते थे तब तत्कालिक कप्तान सौरव गांगुली चैपल से बिगड़ते रिश्ते और पनपे विवाद की वजह से टीम इंडिया से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। इसके बाद टीम की कमान राहुल द्रविड़ के हाथों में सौंप दी गई थी। 

Click : MS Dhoni: PM Modi ने की तारीफ, धोनी ने दिया धन्यवाद

बहरहाल धोनी की तारीफ करते हुए ग्रेग चैपल ने कहा है कि धोनी ऑस्ट्रेलिया के इयान चैपल ( ग्रेग के बड़े भाई ), मार्क टेलर, वेस्ट इंडीज़ को दो विश्व कप का खिताब जीतने वाले क्लाइव लॉयड तथा इंग्लैंड के माइकल ब्रियरली के समतुल्य हैं। चैपल ने टीम इंडिया के साथ अपने कोचिंग के समय को याद करते हुए बताया कि धोनी के सामने जब भी वे कोई भी चुनौती रखते थे, धोनी हर चुनौती पर बड़ी सहजता के साथ पार पा लेते थे। चैपल ने बताया कि टीम में धोनी का मजाकिया अंदाज बेहद पसंद था। 

ClickMS Dhoni: धोनी एक बार फिर दिख सकते हैं नीली जर्सी में

धोनी ने हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने आईसीसी के सभी खिताब अपने नाम किए हैं। यह कारनामा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अब तक केवल धोनी ही कर सके हैं। टीम इंडिया के पूर्व कोच ने धोनी की प्रशंसा की है। धोनी ने अपने करियर में एक भी मैच की कप्तानी चैपल के रहते हुए नहीं की थी। 2007 वर्ल्ड कप में मिली करारी और शर्मनाक हार के बाद चैपल ने टीम इंडिया के कोच का पद छोड़ दिया था। धोनी इंग्लैंड दौरे के दौरान टी ट्वेंटी वर्ल्ड कप के लिए कप्तान बनाया गया था।