Harpreet Singh: हरप्रीत सिंह ने रचा इतिहास, इंडियन एयरलाइंस में देश की पहली महिला सीईओ बनी

साल 1988 में हरप्रीत ने भारत की पहली महिला पायलट बनकर रचा था इतिहास, इंडियन एविएशन इंडस्ट्री में किसी महिला को CEO बनाए जाने का यह पहला मामला है

Updated: Nov 01, 2020, 12:19 PM IST

Harpreet Singh: हरप्रीत सिंह ने रचा इतिहास, इंडियन एयरलाइंस में देश की पहली महिला सीईओ बनी
Photo Courtesy: The Logical Indian

नई दिल्ली। महिला सशक्तिकरण की मिसाल माने जाने वाली हरप्रीत सिंह ने एक बार फिर से इतिहास रच दिया है। हरप्रीत ए डी सिंह एलायंस एयर की पहली महिला सीईओ (CEO) बनी हैं। यह देश में पहली बार है जब इंडियन एयरलाइंस इंडस्ट्री में किसी महिला को सीईओ बनाया गया हो। हरप्रीत ने आज से 32 साल पहले सन 1988 में भी इतिहास रचा था जब वह देश की पहली महिला पायलट बनी थी।

एयर इंडिया के अध्यक्ष और सीएमडी राजीव बंसल ने आदेश जारी कर कहा है कि हरप्रीत सिंह अगले आदेश तक अलायंस एयर की सीईओ रहेंगी। इसके अलावे कैप्टन निवेदिता भसीन को उनके अनुभव को देखते हुए कई अन्य जिम्मेदारी भी दी गई है। हरप्रीत सिंह को एअर इंडिया की सब्सिडियरी एयरलाइन अलायंस एयर का सीईओ नियुक्त किया गया है। इंडियन एविएशन के लिए यह पहला मामला है जब किसी महिला को सीईओ नियुक्त किया गया है। 

कौन हैं हरप्रीत सिंह

हरप्रीत सिंह भारत की पहली महिला पायलट हैं। आज से 32 साल पहले सन 1988 में उन्हें एयर इंडिया ने पायलट नियुक्त किया था। हालांकि स्वास्थ्य कारणों की वजह से वह उड़ान नहीं भर पाईं थीं। इसके बाद उन्होंने लंबे समय तक भारतीय महिला पायलट एसोसिएशन का नेतृत्व किया। वह उड़ान सेफ्टी के क्षेत्र में भी काफी सक्रिय रहीं हैं। कैप्टन निवेदिता भसीन और कैप्टन क्षमता वाजपेयी जैसे अन्य महिला अधिकारी उन्हें रोल मॉडल की तरह देखती हैं।

बता दें कि एयर इंडिया के बिकने के बाद भी एलायंस एयर पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग में बनी रहेगी क्योंकि वह इस सरकारी डील का हिस्सा नहीं है। अगर कंपनी को कोई खरीददार मिल जाता है तो एयर इंडिया के पुराने बोइंग 747 अलायंस एयर को ट्रांसफर किए जाएंगे, जिसके पास अभी टर्बोप्रॉप का एक बेड़ा है। फिलहाल सरकार एयर इंडिया को बेचने की लगातार कोशिश कर रही है। इसकी समय सीमा भी बढ़ाई जा रही है और बोली प्रक्रिया को भी लगातार आसान किया जा रहा है।