पैसा, दारू कांग्रेस से लें, वोट बीजेपी को दें, अमित जोगी की अद्भुत अपील

Marwahi By Election: अमित जोगी का एलान बीजेपी से वैचारिक समझौता नहीं लेकिन साथ उसी का देंगे, भूपेल बघेल बोले, पुरानी है अमित जोगी-बीजेपी की साठगांठ

Updated: Oct 31, 2020, 04:07 PM IST

पैसा, दारू कांग्रेस से लें, वोट बीजेपी को दें, अमित जोगी की अद्भुत अपील
Photo Courtesy: Bhaskar

रायपुर। मरवाही उपचुनाव में प्रचार ख़त्म होने से कुछ ही घंटे पहले अमित जोगी ने इलाके की जनता से ग़ज़ब की अपील की है। वो मतदाताओं से कह रहे हैं कि आप पैसा, शॉल, बिछिया, दारू कांग्रेस से लें, लेकिन वोट बीजेपी को दें। अमित जोगी दावा कर रहे हैं कि कांग्रेस की जमानत जब्त कराना ही उनका उद्देश्य है, जिसके लिए उनकी पार्टी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस अब खुलकर बीजेपी का साथ देगी।

अमित जोगी यह भी कह रहे हैं कि उनकी पार्टी का बीजेपी के साथ वैचारिक समझौता नहीं हो सकता, लेकिन कांग्रेस को हराने के लिए उसका साथ देंगे। अब वैचारिक आदान-प्रदान या तालमेल के बिना दिए जाने वाले चुनावी समर्थन का आधार कौन सा आदान-प्रदान होता है और अमित जोगी की सियासी शब्दावली में उसे क्या कहते हैं, ये तो वही जानें। लेकिन कांग्रेस उनके इस एलान से ज़रा भी अचंभित नज़र नहीं आ रही है।

अमित जोगी के बीजेपी को समर्थन देने के इस एलान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि दोनों का गठजोड़ बरसों पुराना है। हम सब इस सांठगांठ को पहले से जानते रहे हैं। जनता के सामने यह बात पहली बार खुलकर सामने आई है और दोनों पार्टियों ने खुलकर इस बात को स्वीकार किया है।
अमित जोगी का दावा है उन्होंने वैचारिक तालमेल न होने के बावजूद बीजेपी को समर्थन देने का फैसला इसलिए किया क्योंकि वे अपने दिवंगत पिता अजित जोगी के अपमान का बदला लेना चाहते हैं। 

और पढ़ें: इस बार बिना जोगी के होगा मरवाही का चुनाव

गौरतलब है कि मरवाही उपचुनाव में शनिवार चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत कांग्रेस के सभी दिग्गज नेताओं ने यहां प्रचार में अपनी ताकत लगाई। मरवाही में 3 नवम्बर को मतदान होना है।