छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, नक्सली नेता सुधाकर हुआ ढेर

नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा, बस्तर, सुकमा और बीजापुर में चलाया गया ऑपरेशन, DRG की संयुक्त टीम को मिली सफलता, नक्सल नेता समेत कई नक्सलियों के मारे जाने की खबर, बड़ी मात्रा में नक्सली सामान भी जब्त

Updated: Jan 18, 2022, 12:33 PM IST

छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, नक्सली नेता सुधाकर हुआ ढेर
Photo Courtesy: amar ujala

सुकमा। छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए एक संयुक्त ऑपरेशन में DRG की टीमों ने कई नक्सलियों को मार गिराया है। इस ऑपरेशन में दंतेवाड़ा, बस्तर और सुकमा जिले की DRG टीमें शामिल थीं। नक्सल प्रभावित मारजुम इलाके में नक्सलियों और जवानों में भिड़ंत हुई थी। जिसमें नक्सली नेता सुधाकर को मार गिराया गया है। इस मुठभेड़ में कई अन्य नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर है। मुठभेड़ के बाद जवानों ने जंगलों की सर्चिंग की जहां से बड़ी संख्या में नक्सली सामान बरामद हुआ है। अन्य नक्सलियों की मौजूदगी का भी पता चला है। जंगल से lmg, नक्सली वर्दी, टिफिन बम, नक्सल साहित्य भी बरामद हुआ है।

वहीं दूसरी तरफ बीजापुर से लगे उसुर स्थित जंगली इलाकों में भी सुरक्षा बलों ने कार्रवाई की है। वहां भी 2 नक्सलियों के मारे जाने की खबर है। तेलंगाना के मुलगु ज़िले में भी सुरक्षा बलों और नक्सलियों की मुठभेड़ हुई थी।

और पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना ने ली 10 मरीजों की जान, शिक्षा मंत्री समेत 4574 लोग मिले पॉजिटिव

इससे पहले 3 जनवरी को गरियाबंद में जवानों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। छत्तीसगढ़ का यह इलाका ओडिशा की सीमा से लगा है। यह इलाका मैनपुर ब्लाक का है। जहां कुल्हाड़ीघाट पहाड़ी से लगे जंगल में दोनों तरफ से करीब आधा घंटा फायरिंग हुई थी। जिसमें एक जवान घायल हो गया था। मुठभेड़ के बाद नक्सली घने जंगल का फायदा उठाकर ओडिशा की तरफ भाग गए थे। मुठभेड़ के बाद सर्चिंग अभियान को और तेज कर दिया था।