जेल से बाहर आए मुख्यमंत्री के पिता नंदकुमार बघेल, ब्राह्मणों पर विवादित बयान मामले में मिली बेल

सीएम भूपेश बघेल के पिता को 10 हजार के बॉन्ड पर जेल से किया रिहा, चार दिन बाद आए जेल से बाहर, ब्राह्मण संगठनों की शिकायत पर हुई थी गिरफ्तारी

Updated: Sep 11, 2021, 02:36 PM IST

जेल से बाहर आए मुख्यमंत्री के पिता नंदकुमार बघेल, ब्राह्मणों पर विवादित बयान मामले में मिली बेल
Photo Courtesy: Naidunia

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल को कोर्ट से जमानत मिल गई है। जिसके बाद उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया हैं। 10 हजार के बान्ड पर उन्हें रिहा किया गया है। शुक्रवार रात उन्हें जेल से बाहर लाया गया। इस दौरान कई संगठनों ने उनका सम्मान किया। ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप है। जिसे लेकर रायपुर के डीडी नगर थाने में मुख्यमंत्री के पिता के खिलाफ केस दर्ज था।

यह केस ब्राह्मण संगठनों ने दर्ज करवाया था। दरअसल यूपी दौरे के दौरान नंदकुमार बघेल ने ब्राह्मण समाज को बाहरी कहा था। उन्होंने कहा था कि अब वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा। ब्राह्मण को गंगा से रूसी नदी वोल्गा भेजेने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि ब्राह्मण विदेशी हैं। जैसे अंग्रेज देश में आए और चले गए। वैसे ही ब्राह्मण या तो सुधर जाएं या नहीं तो गंगा से वोल्गा जाने को तैयार रहें।

मुख्यमंत्री के पिता पर समाज में शत्रुता, घृणा या वैमनस्य की भावनाएं फैलाने का आरोप है। गुस्साए लोगों ने सीएम के पिता नंदकुमार का पुतला भी दहन किया था।

और पढ़ें: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता गिरफ्तार, ब्राह्मणों के खिलाफ आपत्तिजनक कमेंट मामले में हुई गिरफ्तारी

वहीं पिता के बयान के बाद किसी तरह की कार्रवाई को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा था कि कानून सर्वोपरि है। पिता के तौर पर वे उनका सम्मान करते हैं लेकिन कानून अपना काम करेगा। 7 सितंबर को नंदकुमार की गिरफ्तारी हुई थी। तब उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था, तब उन्होंने जमानत लेने से इनकार कर दिया था। तीन दिनों बाद उन्हें जमानत पर जेल से रिहा कर दिया गया है।