डोंगरगढ़ में घंटों लाइन लगने के बाद भी कोरोना टेस्टिंग नहीं होने से नाराज लोगों ने किया चक्काजाम

राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में सैकड़ों ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ बोला हल्ला, कोरोना जांच केंद्रों में किट नहीं होने से पर जताई नाराजगी, कोरोना टेस्ट नहीं होने से मचा है हाहाकार, प्रशासन के आश्वासन के बाद सुलझा मामला

Updated: Apr 20, 2021, 08:12 PM IST

डोंगरगढ़ में घंटों लाइन लगने के बाद भी कोरोना टेस्टिंग नहीं होने से नाराज लोगों ने किया चक्काजाम
Photo courtesy: etv bharat

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। मंगलवार को राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ और उसके आसपास के ग्रामीणों ने कोरोना जांच नहीं हो पाने की वजह से लोगों ने चक्काजाम किया। सैकड़ों ग्रामीणों ने चिचोला से खैरागढ़ मेन रोड पर चक्काजाम किया। ग्रामीणों का कहना है कि वे दो दिनों से कोरोना जांच के लिए भटक रहे हैं। लेकिन वहां टेस्ट किट नहीं होने के कारण ग्रामीणों को वापस लौटना पड़ रहा है। जिससे नाराज ग्रामीण बीच सड़क पर बैठ गए, और चक्काजाम कर दिया। इसकी वजह से सड़क पर दोनों ओऱ गाड़ियों की कतारें लग गई। 

बताया जा रहा है कि गांव के लोग परिवार समेत जांच कराने डोंगरगढ़ हाईस्कूल गए थे, लेकिन वहां पर्याप्त मात्रा में कोरोना जांच किट नहीं थी। जिसकी वजह से लोगों को परिवार सहित परेशान होना पड़ा। ग्रामीणों ने स्थानीय प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है। डोंगरगढ़ के मुख्य मार्ग पर चक्काजाम की सूचना पर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस के समझाने के बाद भी लोग नहीं मानें तो स्थिति सम्हालने के लिए तहसीलदार को आना पड़ा। उनकी समझाइश के बाद ग्रामीणों ने चक्काजाम खत्म किया। सड़क पर चक्काजाम की वजह से सड़क के दोनों तरफ गाडियों की लंबी कतारें लग गई। चक्का जाम खत्म होते ही पुलिस ने ट्रैफिक बहाल करवाया। दरअसल छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटे में 13834 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 1,29,009 हो गई है।