कांग्रेस पार्षद के भतीजे की हत्या के आरोपी गिरफ्तार, तीन दोस्तों पर लगा आरोप

छत्तीसगढ़ के रायपुर में जतिन विभार हत्याकांड के तीनों आरोपी गिरफ्तार, पैसों के लेनदेन को लेकर हुआ था विवाद

Updated: Feb 16, 2021, 03:46 PM IST

कांग्रेस पार्षद के भतीजे की हत्या के आरोपी गिरफ्तार, तीन दोस्तों पर लगा आरोप

रायपुर। कांग्रेस पार्षद अंजनी विभार और पूर्व पार्षद राधेश्याम विभार के भतीजे जतिन की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। इस मामले में पुलिस ने मृतक के तीन दोस्तों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने स्वीकार किया है कि जतिन के साथ उनका पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद था। जिसके चलते तीनों ने मिलकर उसे मौत के घाट उतार दिया था। शातिर आरोपियों ने मृतक का मोबाइल अपने पास रख लिया था और जतिन बनकर फैमिली से मैसेज पर बात करते थे। मैसेज में लिखा था कि वो ठीक है, उसके दोस्त आएं तो उन्हें पैसे दे देना। जल्द लौटने की बात भी कही थी। 

जतिन की हत्या के आरोपी प्रदीप नायक ने कुबूल है किया है कि उसने ही अपने दो दोस्तों सुजीत तांडी और वेकेंट दिवाकर के साथ मिलकर जतिन का मर्डर करने का प्लान बनाया था। पार्षद का भतीजा जतिन नौ फरवरी को घर से लापता हुआ था। तीनों आरोपियों ने उसे फोन करके बुलाया था और कहा था कि एक बड़ा सूटकेस लेकर आना। उसकी मां ने घर से सूटकेस नहीं दिया तो उसने अपने पड़ोसी अभय से बड़ा सूटकेस मांगा और आरोपी प्रदीप से मिलने पहुंचा। वहां उनके बीच पैसे लौटाने को लेकर विवाद हुआ। जिसके बाद आरोपियों ने जतिन का गला घोंटकर मार डाला। आरोपियों ने जतिन के शव को उसी सूटकेस में भरकर चंडीनगर के सुनसान इलाके के कुएं में फेंक दिया था।

9 फरवरी से खमतराई थाना पुलिस जतिन की तलाश में जुटी थी। सोमवार को किसी कचरा बीनने वाले ने बैग में लाश देखी और पुलिस को मामले की खबर दी। जिसके बाद पुलिस ने इस गुत्थी को सुलझा लिया है। वहीं कांग्रेस नेता ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है, उनका कहना है कि अगर पुलिस मामले की जांच में तेजी लाती हो उनका भतीजा जिंदा होता।