GST Collection: सात महीने में पहली बार 1 लाख करोड़ के पार पहुंचा GST कलेक्शन

फरवरी 2020 के बाद से एक लाख करोड़ के पार नहीं पहुंच सका था जीएसटी कलेक्शन, अक्टूबर के आंकड़े फॉर्मल इकॉनमी में सुधार के संकेत

Updated: Nov 01, 2020, 01:37 PM IST

GST Collection: सात महीने में पहली बार 1 लाख करोड़ के पार पहुंचा GST कलेक्शन
Photo Courtesy: Patrika

नई दिल्ली। देश का गुड्स एंड्स सर्विसेज़ टैक्स यानी GST का कलेक्शन सात महीने बाद पहली बार 1 लाख करोड़ के पार पहुंचा है। अक्टूबर में ग्रॉस GST कलेक्शन ग्रॉस GST कलेक्शन 1,05,155 करोड़ रुपये रहा। इससे पहले फरवरी 2020 में यह आंकड़ा 1,05,366 करोड़ रुपये रहा था। मार्च में लॉकडाउन लगाने जाने के बाद से लेकर सितंबर 2020 तक देश का ग्रॉस GST कलेक्शन लगातार 1 लाख करोड़ से कम ही बना रहा।

राहत की बात यह भी है कि अक्टूबर 2020 का GST कलेक्शन पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले 10 फीसदी ज्यादा है। जीएसटी कलेक्शन में हुई इस बढ़ोतरी की अर्थव्यवस्था के फॉर्मल सेक्टर में रिकवरी के संकेत के तौर पर देखा जा रहा है। लेकिन हमारे देश की अर्थव्यवस्था में इनफॉर्मल या गैर-संगठित क्षेत्र का हिस्सा बहुत बड़ा है। अलग-अलग अनुमानों के मुताबिक देश की जीडीपी का आधे से ज़्यादा हिस्सा इसी क्षेत्र आता है, जबकि रोज़गार के मामले में इस क्षेत्र की हिस्सेदारी और भी ज़्यादा, 80 से 90 फीसदी तक है। ऐसे में सिर्फ GST कलेक्शन के आधार पर पूरी अर्थव्यवस्था में रिकवरी की उम्मीद करना व्यावहारिक रूप से बहुत वाजिब नहीं है।

अक्टूबर के GST कलेक्शन के विवरण पर नज़र डालें तो केंद्रीय वित्त मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक अक्टूबर के कुल 1,05,155 करोड़ रुपये के ग्रॉस GST कलेक्शन में 19,193 करोड़ रुपये CGST से, 5,411 करोड़ रुपये SGST से और 52,540 करोड़ रुपये IGST से आए हैं। इनके अलावा इसमें 8,011 करोड़ रुपये का सेस भी शामिल है। बता दें कि अक्टूबर 2019 में जीएसटी कलेक्शन 95,379 करोड़ रुपये रहा था, जो अक्टूबर 2020 के मुकाबले 10 फीसदी कम है। केंद्रीय वित्त मंत्रालय के मुताबिक, 31 अक्टूबर 2020 तक कुल 80 लाख GSTR-3B रिटर्न फाइल किए गए हैं।