राज कपूर और दिलीप कुमार के पुश्तैनी घरों का पाकिस्तान में होगा संरक्षण

पेशावर में दिलीप कुमार और राज कपूर के पुश्तैनी मकानों का संरक्षण करेगी वहां की सरकार, दिलीप कुमार के मकान की क़ीमत 80.56 लाख रुपये और राज कपूर की हवेली का दाम क़रीब 1 करोड़ रुपये रखा गया

Updated: Dec 10, 2020, 07:33 PM IST

राज कपूर और दिलीप कुमार के पुश्तैनी घरों का पाकिस्तान में होगा संरक्षण
Photo Courtesy: twitter

पेशावर। पाकिस्तान के पेशावर में दिग्गज अभिनेताओं दिलीप कुमार और राज कपूर के पुश्तैनी मकानों के संरक्षण का काम जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है। इन इमारतों के संरक्षण का काम खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की राज्य सरकार करेगी। राज्य सरकार ने इसके लिए दोनों इमारतों के अधिग्रहण की तैयारी कर ली है। जिसके लिए उनके मौजूदा मालिकों को दी जाने वाली कीमतें भी तय कर दी गई हैं। सरकार ने दिलीप कुमार के घर की कीमत 80.56 लाख रुपये और राज कपूर की पुश्तैनी हवेली की कीमत 1 करोड़ 50 हज़ार रुपये रखी गई है।

इन दोनों इमारतों को पहले ही राष्ट्रीय विरासत घोषित किया जा चुका है। इसी साल सितंबर में इन जर्जर हो चुकी ऐतिहासिक बिल्डिंगों के संरक्षण के लिए उन्हें खरीदने का फैसला भी किया गया था। इसी क्रम में अब खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने इमारतों की कीमतें तय कर दी हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो प्रांतीय सरकार से इन दोनों ही इमारतों को खरीदने के लिए 2 करोड़ रुपये रिलीज करने की बात कही गई है। दोनों ही इमारतों को तोड़ने की कोशिश कई बार की जा चुकी है। भवन मालिकों ने कई बार इन इमारतों को तोड़ने और वहां कमर्शियल प्लाजा बनाने की प्लानिंग की थी। लेकिन पुरातात्विक विभाग दोनों इमारतों का संरक्षण लगातार कर रहा है।  ऐसे में मकान मालिकों द्वारा इमारतों को सुरक्षित रखना जरूरी था।

गौरतलब है कि राजकपूर की हवेली के मालिक ने सरकार से 200 करोड़ रुपए की मांग की थी। कपूर हवेली के मालिक अली कदर बिल्डिंग को गिराने की करने की तैयारी नहीं कर रहे हैं। उनकी मानें तो उन्होंने कई बार पुरातात्विक विभाग से संपर्क कर बिल्डिंग को संरक्षित करने को कहा था। उन्होंने प्रांतीय सरकार से इसे खरीदने के लिए 200 करोड़ मांगे थे।

आपको बता दें कि राज कपूर की हवेली का निर्माण 1918 से 1922 के बीच हुआ था। पेशावर के किस्सा खवानी बाजार बनी इस बिल्डिंग को राज कपूर के दादा दीवान बशेश्वरनाथ कपूर ने बनवाया था। इसी घर में राज कपूर ने अपने बचपन के दिन बिताए थे। इसी तरह दिलीप कुमार का घर भी 100 साल पुराना है। जिसे साल 2014 में नवाज शरीफ की सरकार ने राष्ट्रीय विरासत घोषित कर दिया था।