बड़ी टेक कंपनियों ने भारत को दिया मदद का भरोसा, अमेरिकी कंपनी एप्पल के सीईओ का आया बयान

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई पहले ही भारत की सहायता करने का ऐलान कर चुके हैं.. अब एप्पल ने भी राहत कार्य में मदद की बात कही है..

Updated: Apr 27, 2021, 02:21 PM IST

बड़ी टेक कंपनियों ने भारत को दिया मदद का भरोसा, अमेरिकी कंपनी एप्पल के सीईओ का आया बयान
Photo Courtesy: Business Insider

नई दिल्ली। कोरोना के विकराल संकट से जूझ रहे भारत को पूरी दुनिया का साथ मिल रहा है। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान भी भारत के लोगों के लिए दुआएं मांग रहा है। इसके साथ साथ अमेरिका, रूस और यूएई जैसे देश भारत की मदद कर रहे हैं। ऐसे में अब दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी एप्पल ने भी भारत की मदद करने की घोषणा की है। 

एप्पल ने कहा है कि वो भारत में कोरोना की जंग लड़ रहे लोगों के लिए एक रिलीफ फंड जारी करेगा। एप्पल के सीईओ टिम कुक ने खुद ट्वीट कर के इस बात की जानकारी दी है। भारतीय समयानुसार मंगलवार देर रात टिम कुक ने भारत की मदद करने का ऐलान किया है। कुक ने कहा है कि, भारत में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच हम भारत में मौजूद एप्पल के सम्पूर्ण परिवार और कोरोना से जंग लड़ रहे भारतीयों के साथ खड़े हैं। एप्पल इस लड़ाई में राहत प्रदान करने के लिए अपना योगदान देगा। 

एप्पल की इस घोषणा से पहले माइक्रोसॉफ्ट और गूगल जैसी बड़ी बहुराष्ट्रीय टेक कंपनियां भी भारत की सहायता का ऐलान कर चुकी हैं। गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने भारत में दवाइयों की सप्लाई के लिए 135 करोड़ का योगदान देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें : जैसे भारत ने हमारा साथ दिया, हम भी भारत के साथ खड़े रहेंगे, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पीएम मोदी को दिया आश्वासन

वहीं माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने भी हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। सत्या नडेला ने कहा है कि मैं भारत की मौजूदा स्थिति देखकर बेहद दुखी हूं। मैं अमेरिकी सरकार के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। माइक्रोसॉफ्ट भी भारत में ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर्स की खरीद सुनिश्चित करने में हर संभव मदद करेगा।

यह भी पढ़ें : भारत में हृदय विदारक से भी परे हैं हालात, WHO चीफ की भारत में कोरोना के कहर पर टिप्पणी

सत्या नडेला के इस ऐलान से पहले अमेरिकी सरकार ने भी भारत को वैक्सीन के लिए ज़रूरी कच्चा माल और तमाम ज़रूरी दवाइयों को मुहैया कराने का आश्वासन दिया है। सोमवार देर रात भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच फोन पर बातचीत भी हुई है।