अल क़ायदा सरग़ना अल ज़वाहिरी की मौत, अरब न्यूज़ ने दी ख़बर

Al-Zawahiri Is Dead: मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अयमान अल ज़वाहिरी की मौत अस्थमा का इलाज न हो पाने की वजह से हुई है

Updated: Nov 20, 2020, 08:20 PM IST

अल क़ायदा सरग़ना अल ज़वाहिरी की मौत, अरब न्यूज़ ने दी ख़बर
Photo Courtesy: The New Arab

दुनिया के सबसे खूंख्वार आतंकवादी संगठनों में शामिल अल-कायदा के सरगना अयमान अल-ज़वाहिरी की अफगानिस्तान में मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि उसकी मौत अस्थमा की बीमारी की वजह से हुई है। अरब न्यूज़ ने पाकिस्तान और अफगानिस्तान के अपने सूत्रों के हवाले से ज़वाहिरी की मौत की ख़बर दी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि ज़वाहिरी को अस्थमा था, जिसका ठीक से इलाज़ नहीं हो पा रहा था। इसी बीमारी ने आखिरकार उसकी जान ले ली। 

सोशल मीडिया पर भी कुछ समय से अल-जवाहिरी की मौत की जानकारी साझा की जा रही थी। जवाहिरी आखिरी बार 9/11 की बरसी पर एक वीडियो संदेश देता हुआ दिखाई दिया था। अरब न्यूज ने पाकिस्तान और अफगानिस्तान में चार सूत्रों से बात की, जिनमें से दो ने जवाहिरी की मौत की पुष्टि की है। हालांकि किसी भी सूत्र ने मीडिया के कैमरे के सामने यह नहीं कहा है और सारी जानकारी ऑफ रिकॉर्ड ही दी है।

अरब न्यूज के अनुसार, अगर अल-जवाहिरी की मौत की ख़बर सच्ची है, तो यह अल-क़ायदा के लिए बहुत बड़ा झटका होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि हाल ही अल क़ायदा के ऐसे दो सीनियर कमांडर मारे जा चुके हैं, जो ज़वाहिरी की जगह ले सकते थे। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अल-कायदा का ट्रांसलेटर जिसके अभी भी ग्रुप के साथ करीबी संबंध हैं, उसने बताया कि जवाहिरी की पिछले हफ्ते गज़नी में मौत हो गई। उसने बताया, ''अल-जवाहिरी अस्थमा की वजह से मर गया और उसे कोई इलाज नहीं मिल सका।'' वहीं, अफगानिस्तान की सीमा वाले इलाके के पाकिस्तानी सिक्योरिटी अधिकारी ने भी जानकारी दी है कि जवाहिरी की मौत हो चुकी है।

पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा कि  ''हम मानते हैं वह अब जिंदा नहीं है।'' सिक्योरिटी अधिकारी ने अपना नाम बताने से इनकार कर दिया। वहीं, अल-कायदा के करीबी सूत्र ने अरब न्यूज को जानकारी दी है कि जवाहिरी को दफनाए जाते समय वहां बेहद कम लोग मौजूद थे।

अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी गिरोह अल क़ायदा की कमान जब ओसामा बिन लादेन के हाथ में थी, तब अयमान अल ज़वाहिरी उसका सबसे करीबी सहयोगी और संगठन का नंबर दो कमांडर हुआ करता था। अमेरिकी कमांडो कार्रवाई में लादेन के मारे जाने के बाद अल ज़वाहिरी अल कायदा का सरगना बन गया था।