Oxford E Book : चार स्टूडेंट्स ने सेल्फ़ स्टडी के लिए बनाई ई बुक

Learn Better At Home: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के चार छात्रों में एक भारतीय भी, कोरोना काल में घर बैठे पढ़ाई कर रहे छात्रों की सहायता

Updated: Jul-31, 2020, 11:05 AM IST

Oxford E Book : चार  स्टूडेंट्स ने सेल्फ़ स्टडी के लिए बनाई ई बुक

नई दिल्ली। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के छात्रों ने विश्व भर में फैले कोरोना महामारी के दौरान एक ई बुक तैयार की है ताकि घर बैठे पढ़ाई कर रहे छात्रों की सहायता की जा सके। ई बुक का नाम लर्न बेटर एट होम रखा है। किताब में फिजिक्स, केमिस्ट्री, इंग्लिश और जनरल विषय को लिया गया है। खास बात यह है कि जिन चार छात्रों के इस छोटे से समूह ने यह किताब तैयार की है, उनमें से एक भारतवासी है। 

दुनिया भर में जिस समय कोरोना अपने पैर पसार रहा था उस समय ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के दूसरे वर्ष के छात्र पीटर वॉलियाच छात्रों की पढ़ाई घर बैठे आसानी से होके इसके तरीके ढूंढ रहे थे। पीटर ने इसके लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया। सोशल मीडिया पर पीटर ने ऑनलाइन सर्वे और परिचर्चाएं आयोजित कराई। घर पर पढ़ाई करने के जैसी मुश्किल को आसान बनाने के लिए पीटर ने अपने तीन दोस्तों के साथ एक किताब लिखने की ठान ली, जिससे महामारी के दौरान घर बैठे छात्रों की मदद हो सके।

यूनिवर्सिटी के चार छात्र पीटर, टॉम, स्कारलेट और तेजस आचार्य ने लर्न बेटर एट होम के टाइटल से किताब लिख दी। किताब लिखने वाले छात्रों में एक तेजस आचार्य कर्नाटक के बेंगलुरु निवासी हैं। किताब को लिखने वाले छात्रों का कहना है कि हमने ज़्यादातर खुद सेल्फ स्टडी की है। इस वजह से हमें लगा कि एक ई बुक में हमें अपने अनुभवों को साझा करना चाहिए। हमने इस किताब में तमाम वो जानकारी दी हैं, जिससे छात्र घर बैठे पढ़ सकें। किताब के लेखकों में शामिल बैंगलुरु के रहने वाले तेजस का कहना है कि ऑक्सफोर्ड में लेक्चर के अलावा सेल्फ स्टडी करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इसी वजह से हम अपने पसंदीदा विषयों में किताब लिख पाए हैं।

ग़ौरतलब है कि आप इस किताब को किसी भी शुल्क पर डाउनलोड कर सकते हैं। यदि चाहें तो यह किताब आपको नि:शुल्क भी उपलब्ध हो सकती है। अभी तक इस किताब को सौ से ज़्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। अभी तक छात्रों को ई बुक के माध्यम से 600 अमेरिकी डॉलर की कमाई भी हो चुकी है।