भाजपा में पार्षद दावेदारों के लिए 10हजार रुपए एंट्री फीस, कांग्रेस बोली भाजपा दल नही कॉरपोरेट संस्था

वायरल वीडियो में भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी ये कहते नजर आ रहे हैं कि हमें ग्वालियर में 4 करोड़ रुपए का लक्ष्य मिला है।

Updated: Jun 10, 2022, 08:14 AM IST

भाजपा में पार्षद दावेदारों के लिए 10हजार रुपए एंट्री फीस, कांग्रेस बोली भाजपा दल नही कॉरपोरेट संस्था
Image Courtesy : News NCR

ग्वालियर। भाजपा में पार्षद, महापौर पद के दावेदारों को बायो डाटा के साथ 10 हजार रुपए की राशि जमा करनी पड़ रही है। इसे टिकट दावेदारों के लिए एंट्री फीस यानी प्रवेश शुल्क बताया जा रहा है।

ग्वालियर में भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखिजानी का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में एक दावेदार हाथ में 500-500 रुपए के नोटों के साथ नजर आ रहे हैं। एक अन्य दावेदार ग्वालियर भाजपा जिला अध्यक्ष से कहते हैं कि हम तो कई सालों से भाजपा का काम कर रहे हैं। आप बायो डाटा को आगे बढ़ा दो, हम राशि जमा करा देंगे। इस पर भाजपा जिला अध्यक्ष ये कहते नजर आ रहे हैं कि आप राशि जमा कर दो, बायोडाटा आगे क्या हम तो प्रेजेंट करेंगे।। हमें 4 करोड़ रुपए का टारगेट मिला है। 

यह भी पढ़ें: नगरीय निकाय चुनाव: कांग्रेस के किया 15 महापौर प्रत्याशियों का ऐलान, रतलाम पर मंथन जारी

इस मामले पर कांग्रेस की तीखी प्रतिक्रिया आई है। कांग्रेस ने भाजपा को दल की जगह कॉरपोरेट संस्था बता दिया और भाजपा में राजनीति को व्यवसाय करने का माध्यम तक बता दिया।

किसान कांग्रेस नेता केदार शंकर सिरोही ने कहा कि भाजपा राजनैतिक दल की जगह राजनैतिक कॉर्पोरेट है, जहां पर राजनीति व्यवसायिक रूप में होती है। आप खुद भी यह अनुभव करते होंगे।

वहीं ग्वालियर कांग्रेस जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा ने कहा कि भाजपा पूंजीपतियों की पार्टी है, हजारों रुपए देकर इसकी सदस्यता होती है। इसलिए गरीब व्यक्ति कभी चुनाव ही नहीं लड़ सकता, चुनाव के नाम पर भ्रष्टाचार बंद होना चाहिए।