पन्ना में दो साल की बच्ची और आंगनवाड़ी सहायिका कुएं में गिरीं

मध्य प्रदेश के पन्ना की दिया ग्राम पंचायत में आंगनवाड़ी सहायिका और दो साल की बच्ची हाथ धुलाते समय कुएं में गिरीं, ग्रामीणों ने बड़ी मुश्किल से से बचाई दोनों की जान

Updated: Feb 04, 2021, 12:13 PM IST

पन्ना में दो साल की बच्ची और आंगनवाड़ी सहायिका कुएं में गिरीं

पन्ना। मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में एक नन्हीं बच्ची और आंगनवाड़ी सहायिका कुएं में गिर गईं। दिया ग्राम पंचायत के आंगनवाड़ी केंद्र में यह घटना उस वक्त हुई, जब आंगनवाड़ी केंद्र के परिसर में मौजूद के कुएं के पास आंगनवाड़ी सहायिका बच्ची का हाथ धुलवा रही थी। बताया जा रहा है कि यह हादसा कुएं के पास कीचड़ और फिसलन की वजह से हुआ। गांव के लोगों ने मुस्तैदी दिखाते हुए बच्ची और सहायिका दोनों को बचा लिया।

दरअसल कुएं के पास कीचड़ होने की वजह से बच्ची का हाथ धुलाते वक्त आंगनवाड़ी सहायिका का संतुलन बिगड़ गया और वह फिसल गई। बच्ची भी उसके साथ ही फिसलती हुई कुएं में जा गिरी। कुएं पर कोई बाउंड्री भी नहीं है, जो उन्हें रोकती। जैसे ही दोनों कुएं में गिरीं वहां चीख पुकार मच गई। आंगनवाड़ी केंद्र के अन्य स्टाफ ने ग्रामीणों की मदद से बच्ची और सहायिका को कुएं से निकाला।

कुएं में गिरने से सहायिका बेहोश हो गई, बच्ची को गंभीर चोट आई है। दोनों को इलाज  के लिए पहाड़ीखेड़ा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया गया है। इस हादसे की खबर पाकर पन्ना के महिला बाल विकास के अधिकारी और स्थानीय पुलिस मौके पहुंची। मामले की जांच की जा रही है। हादसे ने लोगों का ध्यान इस तरफ भी खींचा है कि ऐसी जगह आंगनवाड़ी चलाने के लिए सुरक्षित कैसे हो सकती है, जहां बिना बाउंड्री वॉल का कुआं मौजूद हो। अधिकारी पूरे मामले की जांच कर रहे हैं।