सेवाधाम आश्रम में बच्चों को जबरन गोमांस खिलाने का आरोप, बाल आयोग ने सागर एसपी को भेजा नोटिस

सेवाधाम आश्रम में डेढ़ वर्षों से अधिक गुजारने वाले दो भाई बहनों ने यह शिकायत की थी कि आश्रम में उन्हें जबरन गोमांस खिलाया जाता है, वहीं बाइबल भी पढ़ने के लिए कहा जाता है, ऐसा न करने पर आश्रम का एक व्यक्ति उनके साथ मारपीट करता है

Publish: Dec 10, 2021, 12:38 PM IST

सेवाधाम आश्रम में बच्चों को जबरन गोमांस खिलाने का आरोप, बाल आयोग ने सागर एसपी को भेजा नोटिस

सागर/भोपाल। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने सागर के पुलिस अधीक्षक तरुण नायक को नोटिस भेजा है। बाल आयोग ने सेवाधाम आश्रम में कथित तौर पर बच्चों को जबरन गोमांस खिलाने और उनके उत्पीड़न के संबंध में सागर एसपी को नोटिस भेजा है। बाल आयोग ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए एसपी से पूरे मामले की रिपोर्ट देने के लिए कहा है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पिछले गुरुवार को सागर के श्यामपुरा स्थित सेवाधाम आश्रम में दो भाई बहनों ने जबरन गोमांस खिलाने और बाइबल पढ़ाने की शिकायत की थी। ये दोनों पिछले डेढ़ साल से इसी आश्रम में रह रहे थे। दोनों ने यह आरोप लगाया था कि गोमांस खाने से मना करने पर उनका उत्पीड़न किया जाता है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों बच्चों ने सेंट फ्रांसिस सेवाधाम आश्रम में रहने वाले एक व्यक्ति पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था। आरोपों के मुताबिक सेवाधाम में ब्रदर के नाम से जाने वाला व्यक्ति गोमांस खाने से इनकार करने पर बच्चों के साथ मारपीट किया करता है।

इस मामले के तूल पकड़ने के बाद खुद बाल आयोग ने इस मामले में संज्ञान लिया है और पुलिस अधीक्षक को इस पूरे मामले की रिपोर्ट देने के लिए निर्देशित किया है। बाल आयोग ने इस मामले में दर्ज एफआईआर की प्रति और सेवाधाम आश्रम के निरीक्षण के निर्देश दिए हैं। बाल आयोग ने इसके लिए पुलिस अधीक्षक को 48 घंटे का समय दिया है।