ग्वालियर के कोविड अस्पताल में कोरोना संक्रमित विधवा महिला से रेप की कोशिश

लोटस हॉस्पिटल के कोविड सेंटर में भर्ती महिला से चेकअप के नाम पर वार्ड बाय ने की रेप की कोशिश, महिला के बेटे और जेठ से मारपीट, शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

Updated: Apr 18, 2021, 02:44 PM IST

ग्वालियर के कोविड अस्पताल में कोरोना संक्रमित विधवा महिला से रेप की कोशिश
Photo courtesy: ajay bharat

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार कर देने का मामला सामने आया है। ग्वालियर के कोविड अस्पताल में भर्ती 45 वर्षीय महिला से दुष्कर्म की कोशिश की गई। ग्वालियर के लोटस हॉस्पिटल के कोविड सेंटर गोल्डन विलेज होटल हॉस्पिटल में भर्ती महिला के साथ यह वारदात हुई है। रेप कोशिश का आरोप वार्ड बाय पर लगा है।

महिला अस्पताल के प्राइवेट वार्ड में भर्ती थी। कोरोना संक्रमित महिला को सांस लेने में तकलीफ थी, जिसके बाद उसे ऑक्सीजन लगाया गया था महिला मरीज का कहना है कि आरोपी वार्ड बॉय आधी रात उसके कमरे में घुसा और अंदर से दरवाजा बंद कर दिया। उसने चेकअप के नाम पर उसके साथ अश्लीलता की। महिला के विरोध करने पर आरोपी ने जबरदस्ती की। जब महिला ने शोर मचाया तो वह भाग खड़ा हुआ।

यह घटना शनिवार रात करीब 12 बजे की है। महिला का आरोप है कि आरोपी वार्ड बाय ने उसके बेटे और जेठ के साथ मारपीट भी की। दरअसल आरोपी की हरकत से घबराई महिला ने इस मामले की सूचना फोन पर अपने बेटे को दी। जिसके बाद महिला का बेटा अपने रिश्तेदार के साथ वहां पहुंचा, जब उन्होंने आरोपी से बात करने की कोशिश की तो अस्पताल के स्टाफ के साथ मिलकर वार्ड बाय ने दोनों के साथ मारपीट की गई।  

महिला की शिकायत पर ग्वालियर के कंपू थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। महिला के परिजनों की मानें तो अस्पताल के मालिक डॉक्टर प्रशांत अग्रवाल ने आरोपी को बचाने के लिए उसे भगा दिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी के खिलाफ छेड़छाड़ और रेप की कोशिश का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस की तत्परता से आरोपी वॉर्ड बाय को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का नाम विवेक लोधी है।