BSP MLA रामबाई की पति से गुहार, ठाकुर साहब आप जहां भी हो सरेंडर कर दो

दमोह के पथरिया से बसपा की विधायक रामबाई सिंह ने हत्या के आरोप में फरार अपने पति ग़ोविन्द सिंह से अपील की है कि वो जहां भी हो पुलिस या कोर्ट के सामने सरेंडर कर दें

Updated: Mar 24, 2021, 09:27 AM IST

BSP MLA रामबाई की पति से गुहार, ठाकुर साहब आप जहां भी हो सरेंडर कर दो
Photo Courtesy: Zeenews

दमोह। मध्यप्रदेश के हटा के बहुचर्चित देेवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में फरार चल रहे पथरिया के बीएसपी विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह की तलाश में एसटीएफ और जिला पुलिस की टीमों को कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। पुलिस ने विधायक पति पर घोषित इनाम को बढ़ाकर 50 हजार कर दिया है। इसी बीच अब रामबाई खुद मीडिया के माध्यम से फरार पति गोविंद सिंह से सरेंडर करने की अपील की है। 

विधायक रामबाई ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर कहा, 'ठाकुर साहब! आप जहां भी हो न्यायालय में आकर सरेंडर कर दो या फिर प्रशासन के सामने सरेंडर कर दो। आज की ही तारीख में कर दो। ऐसा मैं किसी के दबाव में नहीं बोल रही हूं। दिल्ली सुप्रीम कोर्ट में जमानत की अर्जी लगी हुई है। 26 के पहले आप नहीं आए तो हो सकता है जमानत अर्जी खारिज हो जाए।' विधायक रामबाई की इस अपील के बाद फरार गोविंद सिंह के जल्द सरेंडर करने के कयास लगाए जा रहे हैं।

उधर पुलिस अधिकारी लगातार बैठक कर गोविंद सिंह ठाकुर को गिरफ्तार करने की रणनीति बना रहे हैं। पुलिस और एसटीएफ को तमाम प्रयासों के बावजूद भी अब तक सफलता नहीं मिल सकी है। दमोह CSP अभिषेक तिवारी ने बताया की गोविंद की तलाश में टीमों की संख्या बढ़ा दी गई है। उसके पीछे पुलिस की 20 टीमें लगाई गई हैं। इतना ही नहीं पुलिस ने हटा में जगह-जगह रंगीन पोस्टर चिपकाए गए हैं। इसमें गोविंद सिंह ठाकुर की बड़ी फोटो लगी है। पोस्टर में आरोपी पर विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज मामले का उल्लेख किया गया है।

आरोपी का अवैध निर्माण तोड़ा गया

पुलिस ने गोविंद सिंह के अवैध निर्माण पर भी कार्रवाई की है। गोविंद सिंह के पैतृक गांव हनौता में करीब ढाई हजार स्क्वायर फीट जमीन पर मकान का निर्माण किया जा रहा था। सूचना मिलते ही प्रशासन व पुलिस की टीम ने वहां पहुंचकर निर्माणाधीन मकान को तोड़ दी है। दमोह CSP अभिषेक तिवारी ने बताया हिनौता में तोड़ा गया अवैध निर्माण किसका है, यह पता नहीं चल सका है। राजस्व विभाग से जानकारी मांगी गई है। 

क्या है पूरा मामला

हटा के कांग्रेस नेता देवेन्द्र चौरसिया, महेश चौरसिया और सोमेश चौरसिया पर 15 मार्च 2019 को डामर प्लांट ऑफिस के पास धारदार हथियारों और लोहे के सरिया से हमला किया गया। देवेन्द्र की इलाज के दौरान मौत हो गई, जबकि सोमेश और महेश को गंभीर चोटें आईं। सोमेश की शिकायत पर हटा थाने में गोविंद सिंह, चंदू सिंह, गोलू सिंह, लोकेश सिंह के खिलाफ आईपीसी की 302, 323, 324, 392, 506, 120बी, 102 सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया। हालांकि, पुलिस ने जांच में विधायक पति गोविंद सिंह को आरोपी ना मानते हुए उन्हें राहत दे दी गई थी।