कांग्रेस की ट्रैक्टर रैली टली, अब विधायक गांधी प्रतिमा पर किसान आंदोलन के समर्थन में देंगे मौन धरना

कोविड के डर से ना सिर्फ़ विधानसभा सत्र स्थगित हुआ, बल्कि कांग्रेस ने भी अपना प्रदर्शन रोका, सरकार ने 26 दिसंबर को ही विधानसभा के आसपास ट्रैक्टर आदि बड़े वाहनों पर लगा दी थी पाबंदी

Updated: Dec 28, 2020, 01:01 PM IST

कांग्रेस की ट्रैक्टर रैली टली, अब विधायक गांधी प्रतिमा पर किसान आंदोलन के समर्थन में देंगे मौन धरना

भोपाल। एमपी विधानसभा सत्र टलने और कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कांग्रेस ने भी अपनी रणनीति में बदलाव किया है। MP कांग्रेस ने अपनी ट्रैक्टर रैली टाल दी है। अब किसानों के समर्थन में कांग्रेस विधायक विधानसभा स्थित गांधी प्रतिमा पर मौन प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस ने विधानसभा के तीन दिवसीय सत्र के पहले दिन किसान आंदोलन के समर्थन में ट्रैक्टर से विधानसभा की ओर कूच करने का फैसला किया था। लेकिन कोविड की मार ना सिर्फ विधानसभा के सत्र स्थगित करने पर पड़ी, बल्कि कांग्रेस को ट्रैक्टर रैली भी टालनी पड़ी है। 

इससे पहले 26 दिसंबर की रात एमपी सरकार ने एक आदेश जारी कर विधानसभा के पांच किलोमीटर के दायरे में ट्रैक्टर, ट्राली, बैलगाड़ी आदि सभी तरह के भारी वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी थी, लेकिन सत्र से ठीक एक दिन पहले बड़ी संख्या में विधानसभा के कर्मचारियों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कांग्रेस ने भी अपनी रणनीति बदल दी है। अब कांग्रेस के सभी विधायक 28 दिसंबर की सुबह प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित स्थापना दिवस कार्यक्रम के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के नेतृत्व में विधानसभा परिसर में गांधी प्रतिमा पर मौन प्रदर्शन करेंगे।

कांग्रेस ने विधानसभा सत्र से पहले रविवार को विधायक दल की बैठक बुलाई थी, जिसमें सत्र के दौरान कांग्रेस की रणनीति पर चर्चा होनी थी। खबर यह भी है कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में भोपाल के विधायक आरिफ़ मसूद की अल्पसंख्यक वर्ग पर बढ़े हमलों की जांच की पेशकश मान ली गई है। जांच के लिए कांग्रेस विधायक दल की एक जांच कमेटी बनाने की उनकी माँग को कमलनाथ ने मान लिया है। प्रदेश कांग्रेस और विधायक दल की कमेटी उज्जैन, मंदसौर, जबलपुर और इंदौर में अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों के साथ हुई कार्रवाई को देखने जाएगी। 

रविवार को संपन्न हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि नगरी निकाय चुनाव अगले यानी 2023 के विधानसभा चुनाव का ट्रेलर है। इसलिए सभी विधायक इस चुनाव को गंभीरता से लें और आज से ही इसकी तैयारियों में जुट जाएं।  

कांग्रेस पार्टी कृषि बिल के खिलाफ किसानों के आंदोलन के समर्थन में मध्य प्रदेश में भी धरना प्रदर्शन कर रही है। इसी सिलसिले में सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस की योजना ट्रैक्टर चलाकर विधानसभा पहुंचने की थी, लेकिन पहले तो सरकार ने इस पर रोक लगाई और अब कोविड ने विधानसभा सत्र पर ही अपना कहर बरपा दिया। खबर है कि बड़ी संख्या में विधानसभा के कर्मचारी कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं। पांच विधायकों की भी कोरोना रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी है।