मध्य प्रदेश में ज़हरीली शराब पीने से कई गायों की मौत, दर्जनों बीमार, नरोत्तम मिश्रा के गृह क्षेत्र का मामला

मृतक गायों की संख्या को लेकर भ्रम की स्थिति, प्रशासन के मुताबिक 5 गायों की शराब पीने से मौत हुई, जबकि गौ संवर्धन बोर्ड के अनुसार अब तक 9 गाएं मृत पाई गई हैं

Updated: Jan 18, 2021, 06:20 PM IST

मध्य प्रदेश में ज़हरीली शराब पीने से कई गायों की मौत, दर्जनों बीमार, नरोत्तम मिश्रा के गृह क्षेत्र का मामला
Photo Courtesy : The Logical Indian

दतिया। मध्य प्रदेश में नकली शराब पीने से दो दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत के बाद अब गायों के मरने की खबरें भी सामने आने लगी हैं। मामला राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के गृहक्षेत्र दतिया का है जहां नकली शराब पीने से कई गायों की जान चली गई। बताया जा रहा है कि दर्जनों गायों की हालत गंभीर है, जबकि कुछ गायों ने नशे में धुत होकर गांववासियों पर हमला भी कर दिया। 

जहरीली शराब पीने से अबतक कुल कितनी गायों की मौत हुई है इसे लेकर भ्रम की स्थिति है। जिला प्रशासन ने कहा है कि ज़हरीली शराब पीने से 5 गायों की मौत हुई, जबकि स्थानीय लोगों के मुताबिक 9 गायों की जान गई है। दतिया गौ संवर्धन बोर्ड के उपाअध्यक्ष शिशुपाल सिंह चौहान का भी यह कहना है कि अबतक 9 गायों की मौत हो चुकी है, जबकि दर्जनों गंभीर रूप से बीमार हैं। दतिया के जिला कलेक्टर संजय कुमार स्थानीय लोगों पर झूठ बोलने का आरोप लगा रहे हैं। उनका दावा है कि अवैध शराब पीने से केवल पांच गायों की मौत हुई है। कलेक्टर का कहना है कि पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं, जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।'

यह भी पढ़ें: मुरैना जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी चेन्नई में गिरफ्तार

प्रशासनिक लापरवाही से गायों ने पी ली नकली शराब

गांववालों का आरोप है कि गायों के मौत के पीछे प्रशासन जिम्मेदार है। ग्रामीणों ने बताया कि कुछ दिन पहले आबकारी विभाग और पुलिस ने एक अवैध शराब बनाने वाले एक डेरे पर कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में नकली शराब पकड़ी थी। इस दौरान एक शराब भट्टी तोड़ दी गई थी और उसमें पक रही कच्ची शराब को जब्त करने की बजाय वहीं जमीन पर बहा दिया गया था। गांव वालों का आरोप है कि इसी बहा दी गई शराब को पीने से गांव की गायों का ये हाल हुआ है।

मामले पर जिला पशुपालन विभाग के डिप्टी डायरेक्टर जी दास ने कहा, 'जिले के इंद्रगढ़ इलाके में स्थित कंजर बस्ती में शुक्रवार को पुलिस और आबकारी विभाग की जॉइंट टीम ने छापेमारी की थी। टीम ने सैकड़ों लीटर अवैध शराब बरामद की थी और इन्हें मौके पर नष्ट कर दिया। इसी दौरान करीब 20 गायों ने शराब पी ली और वे बीमार पड़ गईं। इनमें से तीन गायों की शनिवार को मौत हो गई तो दो ने रविवार को दम तोड़ दिया। पोस्टमॉर्टम के बाद शवों को दफना दिया गया है। 15 गायों का इलाज चल रहा है।'

यह भी पढ़ें: अवैध शराब के बाद अब दूध में मिलावट में भी बीजेपी नेता का नाम, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

प्रशासन की इस लापरवाही को लेकर स्थानीय लोग गुस्से में हैं। गांववालों ने मृतक गायों के शव को रखकर विरोध प्रदर्शन कर दोषी अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। गौरतलब है कि मुरैना में नकली शराब के कारण दो दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत के कुछ ही दिनों बाद अब दतिया से यह खबर आई है। इस मामले में  सीएम शिवराज सिंह चौहान व गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अब तक चुप्पी साध रखी है।