राम राजा दरबार से दिग्विजय सिंह ने किया उपचुनाव का शंखनाद, नितेंद्र के नामांकन में हुए शामिल

मध्य प्रदेश में उपचुनाव का नामांकन प्रक्रिया शुरू, दिग्विजय सिंह ने राम राजा दरबार से किया शंखनाद, 2018 चुनाव में भी दिग्विजय सिंह ने यहीं से की थी एकता यात्रा की शुरुआत

Updated: Oct 07, 2021, 05:00 PM IST

राम राजा दरबार से दिग्विजय सिंह ने किया उपचुनाव का शंखनाद, नितेंद्र के नामांकन में हुए शामिल

ओरछा। मध्य प्रदेश में उपचुनाव का बिगुल बज चुका है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों द्वारा उम्मीदवारों की सूची जारी होने के बाद अब नामांकन प्रक्रिया को लेकर गहमागहमी है। इसी बीच दिग्गज कांग्रेस नेता व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने ओरछा के राम राजा दरबार से उपचुनाव का शंखनाद किया है।

दरअसल, दिग्विजय सिंह को आज कांग्रेस प्रत्याशी नितेंद्र सिंह राठौर के नामांकन में शामिल होना था। इससे पहले वे नितेंद्र को लेकर ओरछा स्थित राम राजा सरकार का आशीर्वाद लेने पहुंचे। यहां भगवान की पूजा अर्चना करने के बाद दिग्विजय सिंह मिशन उपचुनाव के लिए निकले। बता दें कि राम राजा दरबार से ही दिग्विजय सिंह ने साल 2018 विधानसभा चुनाव का शंखनाद किया था। सिंह ने यहां पूजा-अर्चना कर पूरे प्रदेश में एकता यात्रा निकाली थी।

यह भी पढ़ें: MP By-election: दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों का ऐलान, खंडवा और जोबट में मुकाबला दिलचस्प

राम राजा सरकार का दर्शन लाभ लेकर दिग्विजय सिंह निवाड़ी पहुंचे। यहां वे कांग्रेस उम्मीदवार नितेंद्र सिंह राठौर के नामांकन प्रक्रिया में शामिल हुए। इस दौरान सिंह ने कहा कि बीजेपी में पीढ़ियों से काम करने वाले कार्यकर्ताओं को दरकिनार किया जा रहा है। बीजेपी अब समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं के भरोसे है। बता दें कि इस बार उपचुनाव में भी बीजेपी ने एक कांग्रेस से जबकि दूसरे सपा से पाला बदलकर आए नेताओं को टिकट दी है।