अगर औषधि है तो लिया करें, शराब को औषधि बताने वाली प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर दिग्विजय सिंह का जवाब

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मीडिया से बात करते हुए बुधवार को कहा था कि सीमित मात्रा में शराब का सेवन करना औषधि की तरह काम करता है, अब कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने भाजपा सांसद के बयान पर तंज कसा है

Publish: Jan 21, 2022, 09:33 AM IST

अगर औषधि है तो लिया करें, शराब को औषधि बताने वाली प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर दिग्विजय सिंह का जवाब

भोपाल। मध्य प्रदेश में नई आबकारी नीति को लेकर घमासान जारी है। भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के शराब को औषधि बताने वाले बयान पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने तंज कसा है। उन्होंने बीजेपी नेता के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अगर शराब औषधि है तो लिया करें। 

गुरुवार को पत्रकारों ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी। पत्रकारों के सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर औषधि है तो लिया करें।

यह भी पढ़ें : मुख्य्यमंत्री से मिलने का समय माँगा तो तैनात की पुलिस, दिग्विजय सिंह के आवास पर सुरक्षाकर्मियों का जमावड़ा

दरअसल गुरुवार को बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नई आबकारी नीति को लेकर कहा था कि शराब औषधि का काम करती है। बीजेपी नेता ने इसके लिए आयुर्वेद तक का हवाला दे दिया। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि अगर शराब को सीमित मात्रा में लिया जाए तो वह औषधि का काम करती है। हालांकि बीजेपी नेता ने यह भी कहा कि जरूरत से ज्यादा मात्रा में सेवन करने पर शराब जहर में तब्दील हो जाती है। 

यह भी पढ़ें : प्रज्ञा ठाकुर ने शराब को बताया औषधि, कांग्रेस बोली पूरी भाजपा प्रदेश को शराब में डुबाना चाहती है

साध्वी प्रज्ञा का बयान मीडिया में सामने आने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी थी। नरेंद्र सलूजा ने कहा था कि पूरी भाजपा मध्य प्रदेश को शराब में डुबाना चाहती है। सलूजा ने साध्वी प्रज्ञा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि सांसद जी शराब का नहीं, बल्कि उसकी मात्रा का विरोध कर रही हैं।