Digvijaya Singh: कांग्रेस नेताओं पर दर्ज हो रहे झूठे मुकदमें, जंगलराज के खिलाफ आवाज उठाएंगे

MP By Poll 2020: राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह की दतिया में प्रेस वार्ता, मंत्री नरोत्तम मिश्रा और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर बोला हमला

Updated: Sep 12, 2020 08:04 PM IST

Digvijaya Singh: कांग्रेस नेताओं पर दर्ज हो रहे  झूठे मुकदमें, जंगलराज के खिलाफ आवाज उठाएंगे
Photo Courtesy: the statesman

दतिया। जब से मध्यप्रदेश में बीजेपी की खरीदी हुई सरकार बनी है तब से लोग ऐसा महसूस कर रहे हैं कि दतिया जिले में न तो भारत का संविधान लागू है, न ही कोई नियम और कानून लागू है। हम कांग्रेसी लोग इसे सहन नहीं करेंगे। हम संविधान को मानने वाले लोग हैं। कांग्रेस नेताओं पर झूठे मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं और उन्हें जेल में डाला जा रहा है। हम कानूनी मदद लेकर इस जंगलराज के खिलाफ आवाज उठाएंगे।

यह बात राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने शनिवार को दतिया में प्रेस कांन्फ्रेंस में कही। उन्होंने कहा कि दतिया जिले में प्रशासनिक तंत्र मंत्री नरोत्तम मिश्रा के इशारे पर काम कर रहा है। यहां प्रशासन महसूस कर रहा है, कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह नहीं नरोत्तम मिश्रा हैं। यहां सिर्फ नरोत्तम मिश्रा का ही संविधान है और उनका ही कानून है। वे जिसको चाह रहे उसको गुण्डा लिस्ट में डाला जा रहा है। जिसको वो चाहे उसे जिलाबदर किया जा रहा है।प्रदेश में जारी जंगल राज के खिलाफ लड़ाई लड़ने में हम सक्षम हैं।  

वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि सिंधिया ने कांग्रेस में रहते कहा था कि शिवराज जी के हाथ खून से रंगे हुए हैं जिन्हें कितना भी रगड़ो साफ नहीं होंगे। अब वे पहले कही गई अपनी हर बात के विपरीत बातें कर रहें हैं। यह उनकी विश्वसनीयता पर बहुत बड़ा सवाल है। उन्हें जनता सबक सिखाएगी।जनता सभी बागियों को हराएगी।

राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस देश में पूरी व्यवस्था बड़े उद्योगपतियों को सौपीं जा रही है। मोदी सरकार द्वारा 4 ऑर्डिनेंस लाए गए जो किसान विरोधी है, उपभोक्ता विरोधी है तथा छोटा और मध्यम उद्योग ग विरोधी हैं।

आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह शुक्रवार को भिंड में नदी बचाओ यात्रा में शामिल हुए थे। शनिवार को उन्होंने दतिया में  विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लिया।