सांसद केपी यादव ने सिंधिया समर्थक मंत्री को बताया मूर्ख, कहा 2020 में हमसे हुई गलती

सिंधिया को हराने वाले सांसद केपी यादव ने मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया को नसीहत देते हुए कहा कि बीजेपी ने उन्हें मंत्री बनाया है, गद्दारी जैसा काम न करें

Updated: May 23, 2022, 05:52 PM IST

सांसद केपी यादव ने सिंधिया समर्थक मंत्री को बताया मूर्ख, कहा 2020 में हमसे हुई गलती

गुना। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को हराने वाले बीजेपी सांसद केपी यादव ने सिंधिया समर्थक पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया को मूर्ख करार दिया है। केपी यादव ने सिसोदिया को नसीहत देते हुए कहा है कि बीजेपी ने उन्हें मंत्री बनाया है, गद्दारी जैसा काम न करें। उन्होंने यह भी कहा है कि 2020 में ऐसे लोगों को पार्टी में शामिल कर बीजेपी ने गलती की है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव में सिंधिया की हार को लेकर लगातार महेंद्र सिंह सिसोदिया द्वारा माफी मांगने पर सांसद केपी यादव भड़क गए। उन्होंने कहा कि जब वरिष्ठ बार-बार गलती करें, तो उन्हें टोकना जरूरी हो जाता है। रविवार को गुना पहुंचे यादव ने यह भी कहा कि पीएम मोदी की तुलना एक आततायी (अकबर) से करना गलत है और पार्टी ने उन्हें भाजपा में शामिल कर गलती की है।

यह भी पढ़ें: यूरोप में तेजी से पैर पसार रहा मंकीपॉक्स, अब तक 100 से अधिक मरीज मिले, भारत में भी एयरपोर्ट्स और बंदरगाहों पर निगरानी बढ़ी

दरअसल, दो दिन पहले सिसोदिया ने गुना में कहा था कि अकबर के दरबार में नवरत्न थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंधिया के रूप में गुना जिले को हीरा दिया है। इसपर संसद केपी यादव ने कहा कि मैंने पंचायत मंत्री के और भी स्टेटमेंट सुने हैं। कभी वो PM की तुलना किसी ऐसे आततायी से करते हैं, जिससे हिंदुस्तान नफरत करता है। कार्यकर्ताओं को लगने लगा है कि 2020 में पार्टी से गलती हुई है, जो ऐसे लोगों को बिना सोचे-समझे, भाजपा में ले लिया, जिन्हें भाजपा की रीति-नीति के बारे में जानकारी नहीं है। 

बता दें कि पिछले लोकसभा चुनाव में गुना में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को हार मिली थी, जिसे लेकर पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया कई बार माफी मांग चुके हैं। कई मौकों पर पंचायत मंत्री यह कहते नजर आए हैं कि लोकसभा चुनाव में जनता से गलती हुई है। इस गलती को आप माफ करें महाराज।
 म्याना में ट्रेन स्टॉपेज कार्यक्रम, गुना में जज्जी बस स्टैंड के कार्यक्रम में भी पंचायत मंत्री ने सिंधिया से माफी मांगी थी।

केपी यादव के बयान पर मंत्री सिसोदिया ने कहा है कि उन्हें सार्वजनिक बयानबाजी से पार्टी की छवि खराब नहीं करना चाहिए। यादव छोटे भाई जैसे हैं। ये पार्टी फोरम का मामला है। पार्टी नेतृत्व स्पष्टीकरण मांगेगा तो हम बात रखेंगे। इस पूरे मामले पर कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने कहा है सांसद यादव ने निशब्द कर दिया।