श्योपुर के एक गांव में 100 से ज्यादा लोगों को उल्टी-दस्त शुरू, कुएं का गंदा पानी पीने के बाद बिगड़ी तबीयत

2022 में भी कुएं का पानी पीने को मजबूर हैं श्योपुर जिले के गुहाड़ी गांव के लोग, मंगलवार को अचानक बिगड़ी 100 लोगों की तबियत, सूचना के बाद भी नहीं पहुंची स्वास्थ विभाग की टीम

Publish: Jun 28, 2022, 05:10 PM IST

श्योपुर के एक गांव में 100 से ज्यादा लोगों को उल्टी-दस्त शुरू, कुएं का गंदा पानी पीने के बाद बिगड़ी तबीयत

श्योपुर। मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले के गुहाड़ी गांव में मंगलवार को एक साथ 100 से अधिक लोगों की तबियत बिगड़ गई। ग्रामीण लगातार उल्टियां कर रहे हैं, दस्त की भी समस्या है। करीब 30 लोगों की तबियत ज्यादा बिगड़ने के बाद उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया है। बाकी सभी गांव में भी झोलाछाप डॉक्टरों से इलाज करवा रहे हैं।

दरअसल, 21वीं सदी में भी इस गांव के लोग कुएं का गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। मंगलवार को भी ग्रामीणों ने कुएं का ही पानी पिया था। लेकिन वे अचानक बीमार हो गए। ग्रामीणों के मुताबिक पेयजल का अन्य कोई व्यवस्था नहीं होने के कारण मजबूरन वे इसी कुएं का दूषित पानी लंबे समय से पीते आ रहे हैं। हालांकि, इससे पहले इस तरह की कोई समस्या नहीं हुई। लेकिन मंगलवार को पानी का अत्यधिक साइड इफेक्ट दिखा। 

कुछ ग्रामीणों का दावा है कि कुएं के पास बने तालाब में दवा डालने की वजह से कुएं का पानी दूषित हुआ है। और इसी वजह से ग्रामीणों की तबीयत बिगड़ रही है। हालांकि, फिलहाल कोई जांच नहीं हो पाया है। PHE विभाग के कर्मचारी कुएं के पानी का सैंपल लेकर गए हैं।

ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि सूचना के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में नहीं पहुंची है। हालांकि,  सीएमएचओ डॉ बीएल यादव का कहना है कि गुहाडी गांव में बीमारी फैली है। इसके क्या कारण है इसका पता लगाया जा रहा है। साथ ही मरीजों का उपचार कराने के लिए टीम भेज दी है। जिला अस्पताल में भी मरीजों का उपचार किया जा रहा है। सभी की हालत में सुधार है।