अग्निकांड: उचेहरा में आग से 400 एकड़ में खड़ी फसल मिनटों में जलकर खाक

सतना जिले के मेहुती और सुहास गांव के 700 किसानों की फ़सल जलकर राख हो गई, आशंका जताई जा रही है कि बिजली के शॉर्ट सर्किट से आग लगी ।

Updated: Apr 15, 2021, 12:43 PM IST

अग्निकांड: उचेहरा में आग से 400 एकड़ में खड़ी फसल मिनटों में जलकर खाक
Photo courtesy: bansal news

सतना। मध्यप्रदेश के सतना ज़िले में भीषण अग्निकांड हुआ है। जैतवारा कस्बे के पास महती गांव में 400 एकड़ रकबे में खड़ी गेंहू की फ़सल जलकर राख हो गई है। बताया जा रहा है 700 से ज्यादा किसानों की फ़सल जल कर राख हो गई है। शॉर्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जताई जा रही है। 

सतना जिले के जैतबारा कस्बे के पास एक खेत में गेहूं की खड़ी फसल में दोपहर में आग लग गई। देखते ही देखते आग विकराल रूप ले लिया। हवा चलने के कारण आग तेज़ी से फैली और खेतों को अपनी चपेट में लेते हुए पास के सुहास गांव तक पहुंच गई।  ग्रामीणों ने जान जोखिम में डालकर आग को काबू करने की कोशिश की, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। आग की लपटों ने चार सौ एकड़ में लगी खेत में खड़ी पकी हुई गेहूं की फसल को अपनी चपेट में ले लिया। ग्रामीणों ने बताया कि कुछ फसल कट भी चुकी थी लेकिन खलिहान तक नहीं पहुँच सकी थी, इसलिए गट्ठे खेत में रखे थे।
आग की चपेट में आने से जलकर राख हो गए।

भीषण अग्निकांड में मेहुती और सुहास गांव के कम से कम दो सौ किसानों की फ़सल बर्बाद हुई हैं। अनुमान लगाया जा रहा है अब तक जिले में 700 किसानों की पकी फसल आग की भेंट चढ़ चुकी है। सतना सांसद गणेश सिंह ने किसानों को भरोसा दिलाया है कि सरकार सर्वे कराकर किसानों को हर्जाना देगी। सांसद ने कहा ज़्यादातर जगहों पर बिजली विभाग की लापरवाही से आग लगी।

वहीं सतना ज़िले के उचेहरा जनपद क्षेत्र के अटरा गांव में गेहूं की कटाई के दौरान हार्वेस्टर मशीन में आग लग गई। हार्वेस्टर से उठी चिंगारी ने मशीन सहित फसल को राख कर दिया। उस वक्त खेत में फसल की कटाई की जा रही रही थी। गांव वालों की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।