फ्री पास के लिए दादागिरी कर रहे अधिकारी, मैच से पूर्व MPCA चेयरमैन ने लगाए गंभीर आरोप

MPCA चेयरमैन अभिलाष खांडेकर ने कहा कि मैच के पहले इस कार्रवाई का डर दिखाकर पास मांग रहीं थीं नगर निगम आयुक्त लता अग्रवाल

Updated: Oct 04, 2022, 06:17 PM IST

फ्री पास के लिए दादागिरी कर रहे अधिकारी, मैच से पूर्व MPCA चेयरमैन ने लगाए गंभीर आरोप

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में आज भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टी ट्वेंटी मैच हो रहा है। हालांकि, मैच से पूर्व मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (MPCA) और नगर निगम के बीच हुआ विवाद सुर्खियों में है। क्रिकेट एसोसिएशन का कहना है कि फ्री पास के लिए नगर निगम के अधिकारी दबाव बना रहे थे।

दरअसल, सोमवार को नगर निगम आयुक्त लता अग्रवाल ने होलकर स्टेडियम में बने मप्र क्रिकेट एसोसिएशन के दफ्तर पर कार्रवाई की थी। MPCA चेयरमैन अभिलाष खांडेकर ने मंगलवार को सख्त लहजे में नगर निगम की कार्रवाई का विरोध किया। उन्होंने नगर निगम अधिकारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर इंदौर में क्रिकेट मैच नहीं होंगे, तो इसमें इंदौर शहर का नुकसान होगा, इन अधिकारियों का नुकसान नहीं होगा। ये सब मिलकर इंदौर में क्रिकेट टूरिज्म को खत्म करना चाहते हैं।

मंगलवार को MPCA चेयरमैन खांडेकर ने मीडिया के सामने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि नगर निगम की टीम डराने वाले रवैये से बात कर रही थी। वे हमें मैच के पहले ही मनोरंजन टैक्स का बोल रही थी। जबकि हमने उन्हें कहा कि मैच तो हो जाने दीजिए। उन्होंने कहा कि नगर निगम का अमला मैच के एक दिन पहले एमपीसीए के दफ्तर में आ धमका। क्रिकेट एसोसिएशन के सामने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच को निर्बाध तरीके से पूरा कराने का टास्क है। जब अपने काम में व्यस्त थे तो नगर निगम को किसने अधिकार दिया कि वे अकाउंट सेक्शन में जाकर हमारी कुर्सियों पर बैठ जाए। लता अग्रवाल अपने आप को क्या समझती हैं?

MPCA चेयरमैन ने आगे कहा कि हमारा नगर निगम, जिला प्रशासन, पुलिस से कोई झगड़ा नहीं है। मगर कल का घटनाक्रम बहुत निंदनीय है। ये किसी के साथ भी हो सकता है। जब नगर निगम के अधिकारी म.प्र क्रिकेट एसोसिशन के साथ ऐसा कर सकते हैं, तो आम आदमी के साथ कैसा बर्ताव करते होंगे। ये कमिश्नर मैडम, सीएम और मुख्य सचिव को और इंदौर की जनता को सोचना चाहिए। मैच के पहले इस तरह की कार्रवाई करने का डर दिखाकर पासेज के संबंध में इंडिकेट कर रही हैं।