दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद हरकत में आया रेलवे, जबलपुर मंडल में घटे प्लेटफॉर्म टिकट के दाम

पहले जबलपुर और मदन महल रेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म टिकट के दाम 50 रुपए और जबलपुर मंडल के अंतर्गत आने वाले अन्य स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट के दाम तीस रुपए तक बढ़ा दिए गए थे

Updated: Sep 12, 2021, 12:37 PM IST

दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद हरकत में आया रेलवे, जबलपुर मंडल में घटे प्लेटफॉर्म टिकट के दाम

भोपाल। प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाए जाने पर बवाल मचने के बाद रेलवे विभाग हरकत में आया है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद जबलपुर मंडल के स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट के दाम पुरानी दरों पर कर दिए गए हैं। इसकी जानकारी खुद जबलपुर डीआरएम ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी है। 

हाल ही में सोशल मीडिया पर जबलपुर स्टेशन पर मिलने वाले प्लेटफॉर्म टिकट की तस्वीर वायरल हुई थी। जिसमें यह नज़र आ रहा था कि एक प्लेटफॉर्म टिकट के लिए व्यक्ति से 50 रुपए वसूले गए हैं। इस पर जल्द ही बवाल मच गया। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी इस सिलसिले में ट्वीट किया था। जिसके बाद प्लेटफॉर्म टिकट के दाम घटा दिए गए। 

जबलपुर मंडल के अंतर्गत आने वाले जबलपुर स्टेशन और मदन महल स्टेशन पर एक प्लेटफॉर्म टिकट के लिए 50 रुपए तक वसूले जा रहे थे। वहीं अन्य रेलवे स्टेशनों कटनी, कटनी मुड़वारा,मैहर, सतना, रीवा, सागर, दमोह और पिपरिया स्टेशन पर प्लेटफॉर्म टिकट के लिए 30 रुपए वसूले जा रहे थे। जबकि इन सभी स्टेशनों पर पहले प्लेटफॉर्म टिकट के लिए 20 रुपए चुकाने पड़ते थे। पहले ही महंगाई की मार झेल रही जनता को प्लेटफॉर्म टिकट के बढ़े दामों ने आक्रोशित कर दिया, जिसके बाद प्लेटफॉर्म टिकट के दाम घटा दिए गए।

जबलपुर डीआरएम ने अपने ट्विटर हैंडल पर प्लेटफॉर्म टिकट के दाम घटाए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि जबलपुर मंडल के प्रमुख स्टेशनों जबलपुर,मदन महल, कटनी, कटनी मुड़वारा, मैहर, सतना, रीवा, सागर, दमोह, नरसिंहपुर तथा पिपरिया स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट ₹20 किया गया है पूर्व जबलपुर एवं मदन महल में 50 रुपए तथा अन्य स्टेशनों पर 30 रु प्रति व्यक्ति था।

हालांकि प्लेटफॉर्म टिकट के महंगे दाम केवल जबलपुर मंडल तक सीमित नहीं हैं। राजधानी भोपाल में एक प्लेटफॉर्म टिकट अब भी 50 रुपए में ही मिल रहा है। जबकि ग्वालियर, इंदौर, बैतूल, छिंदवाड़ा और इटारसी जैसे स्टेशनों पर एक प्लेटफॉर्म टिकट के लिए लोगों से तीस रुपए वसूले जा रहे हैं।