आजादी के जश्न के बीच सड़क पर जन्म लेता देश का भविष्य, नवजात बच्चे ने दिया MP के बदहाल सड़कों का प्रमाण

मध्य प्रदेश के सतना जिले में जर्जर सड़क होने के कारण प्रसूता तक नहीं पहुंची जननी एक्सप्रेस, सड़क के किनारे हुआ बच्चे का जन्म, किलकारियों में गूंजी बदहाली की दास्तां

Updated: Aug 15, 2021, 06:41 PM IST

आजादी के जश्न के बीच सड़क पर जन्म लेता देश का भविष्य, नवजात बच्चे ने दिया MP के बदहाल सड़कों का प्रमाण

सतना। आज स्वतंत्रता के 75वें सालगिरह पर देशभर में आज़ादी का जश्न अमृत महोत्सव के साथ मनाया गया। वहीं दूसरी ओर बीजेपी शासित मध्य प्रदेश के सतना से सामने आई हृदय विदारक तस्वीर देश के वर्तमान और भविष्य दोनों को संकट में होने के संकेत दे रही है। तस्वीर में देखा जा सकता है कि राज्य के खस्ताहाल सड़कों की वजह से एक प्रसूता ने इस देश और प्रदेश के भविष्य को सड़क पर ही जन्म दिया है। 

आजाद भारत की यह बदहाल तस्वीर सतना जिले के कोटर थाने के बिहरा गांव की है। यहां आदिवासी बस्ती तक पहुंचने की सड़क इतनी बेहाल है कि महिला को प्रसव के लिए अस्पताल ले जाना भी मुमकिन नहीं है। दरअसल गांव के इस आदिवासी बस्ती तक पहुंचने के लिए कोई रास्ता ही नहीं है। इस वजह से अस्पताल से बुलाई गई जननी एक्सप्रेस प्रसूता नीलम के पास समय पर पहुंच ही नहीं पाई।

यह भी पढ़ें: जंगल में रहने को मजबूर हैं बाढ़ पीड़ित, हाल जानने पहुंचे दिग्विजय सिंह ने उठाया सरकारी अनदेखी पर सवाल

मजबूरन नीलम के घरवालों को उसकी डिलीवरी वहीं सड़क किनारे बगीचे में करनी पड़ी। प्रसव के बाद किसी मां और बच्चे को कोटर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जा कर भर्ती किया गया है। डॉक्टर्स ने दोनों की हालत को फिलहाल भले ही सामान्य बताया है लेकिन देश के भविष्य ने जन्म लेते साथ अपने देश की बदहाली का जीता-जागता प्रमाण देखा है। 

प्रदेश की 4 हजार किमी सड़कें हुई खराब

मध्य प्रदेश की सड़कों को लेकर इसी हफ्ते एक रिपोर्ट सामने आई थी जिसमें बताया गया था कि बारिश के कारण राज्यभर में 4 हजार किलोमीटर सड़कें छलनी हो चुकीं हैं, लेकिन कोई सुध लेने वाला नहीं है। इनमें गारंटीड पीरियड वाली सड़कों का भी यही हाल है। यह स्थिति तब है जब सड़कों को लेकर सीएम शिवराज दावे करने में शीर्ष पर हैं। उनका एक दावा तो पूरे देशभर में मशहूर है, जिसमें उन्होंने अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन में जाकर बोलने से गुरेज नहीं किया था कि आपसे अच्छी सड़कें हमारे मध्य प्रदेश में हैं। राज्य में सड़कों की बदहाल कहानी स्वतंत्रता दिवस के दिन जन्म लिए इस बच्चे की किलकारियों में सुना जा सकता है।