Mandla : NSUI कार्यकर्ता को पहले टक्‍कर मारी फिर गोली

शुरुआती तौर पर NSUI महामंत्री सोनू परोचिया की हत्या में बजरंग दल के एक कार्यकर्ता हैप्पी यादव का नाम सामने आ रहा है

Publish: Jun-27, 2020, 06:29 PM IST

Mandla : NSUI कार्यकर्ता को पहले टक्‍कर मारी फिर गोली
Photo courtesy : patrika

बीजेपी सरकार आते ही मध्‍य प्रदेश में कानून व्यवस्था फिर बेलगाम होने लगी है। प्रदेश में लॉकडाउन में हुए अपराधों के बाद अब खुलेआम हत्‍याएं की जा रही हैं। मण्डला में बीती रात एनएसयूआई जिला महासचिव सोनू परोचिया कार्यकर्ता को पहले गाड़ी से टक्‍कर मारी गई फिर गोली मारकर हत्या कर दी गई है। गुरुवार रात विदिशा में कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के दफ्तर पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ कर हवाई फायर किए थे।

मंडला पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महाराजपुर थाने के पोंडी गांव में देर रात 1 बजे के लगभग यह घटना हुई। एनएसयूआई जिला महासचिव सोनू परोचिया अपनी मोपेड से जा रहे थे तब ही एक गाड़ी ने उन्‍हें टक्‍कर मार दी। जब तक वह संभल पाता तब तक गोली मार कर हत्या कर दी गई। पुलिस हत्‍या की तफ्तीश में जुट गई है। शुरुआती तौर पर सोनू परोचिया की हत्या में बजरंग दल के एक कार्यकर्ता हैप्पी यादव का नाम सामने आ रहा है। घटना में उसके साथ तीन लोग और थे। एनएसयूआई जिला महासचिव सोनू परोचिया की हत्या में बजरंग दल के कार्यकर्ता के नाम आने से यह राजनीतिक रंजिश का मामला दिखाई दे रहा है।

कांग्रेस लगातार कह रही है की बीजेपी राज में अपराध तेजी से बढ़ रहे हैं। कांग्रेस नेताओं पर हमले किए जा रहे हैं। गौरतलब है कि गुरुवार को विदिशा से कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव पर भी बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा उनकी फैक्ट्री तथा घर पर तोड़ फोड़ की गई थी। आरोप है कि नगर पालिक अध्‍यक्ष मुकेश टंडन की उपस्थिति में गोली भी चलाई गई। इस घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने डीजीपी को लिखे अपने पत्र में कहा था कि प्रदेश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को हतोत्साहित करने के लिए एक सोची समझी रणनीति के तहत साज़िश रची जा रही है। कमलनाथ ने डीजीपी विवेक जौहरी को कहा था कि जब से प्रदेश में सत्ता का परिवर्तन हुआ है, तब ही से प्रदेश में कानून व्यवस्था नियंत्रण के बाहर चली गई है।