पीएम मोदी ने 4.5 लाख परिवारों को कराया गृहप्रवेश, सीएम चौहान बोले- 2024 तक सबको पक्के मकान

धनतेरस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश में आयोजित गृह प्रवेश कार्यक्रम के दौरान पीएम आवास योजना के तहत 4.5 लाख हितग्राहियों को नए आवास में गृह प्रवेश करवाया।

Updated: Oct 22, 2022, 05:30 PM IST

पीएम मोदी ने 4.5 लाख परिवारों को कराया गृहप्रवेश, सीएम चौहान बोले- 2024 तक सबको पक्के मकान

सतना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मध्य प्रदेश के साढ़े चार लाख से अधिक हितग्राही परिवारों को उनके नवनिर्मित आवासों में गृह प्रवेश कराया। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वादा किया कि मध्य प्रदेश में 2024 तक कोई गरीब कच्ची झोपड़ी में नहीं रहेगा। सबके पक्के मकान बनाकर दिए जाएंगे।

पीएम मोदी सतना में हुए​​​​ मुख्य कार्यक्रम में वर्चुअली जुड़े थे। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने धनतेरस और दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह अवसर नई शुरुआत का होता है। हम घर में कुछ नया करते हैं। कुछ नया जोड़ते हैं। नया संकल्प लेकर नयापन लाकर सुख-समृद्धि के लिए नए द्वार खोलते हैं। मध्य प्रदेश के साढ़े 4 लाख लोगों के लिए यह अवसर नया सवेरा लाया है। पहले धनतेरस सिर्फ उनके लिए थी, जिनके पास पैसे होते थे, लेकिन आज मध्य प्रदेश का गरीब भी धनतेरस पर गृह प्रवेश कर रहा है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि, 'मैं तकनीकी के माध्यम से सामने बैठे असीम आकांक्षाओं वाले चेहरे देख पा रहा हूं। पहले आकांक्षाएं आ ही नहीं पाती थीं, चेहरे मुरझा जाते थे। आज का अवसर सिर्फ गृह प्रवेश का नहीं, बल्कि नए सपने शुरू करने का है। ये हमारी सरकार का सौभाग्य है कि साढ़े 3 करोड़ लोगों के सपने पूरे कर पा रही है। हमारी सरकार हर गरीब की जरूरत, उसके मन को समझती है। शौचालय, बिजली, पानी सब कुछ देती है। हमारी अलग-अलग योजनाएं सभी जरूरतों को पूरा करती है।'

यह भी पढ़ें: धनतेरस पर घर नहीं पहुँच सके 15 यात्री, हैदराबाद से गोरखपुर का सफ़र रहा अधूरा, रीवा बस हादसे में 40 घायल

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, 'पहले की सरकारों की गलत नीतियों की वजह से मजबूरी में आवासहीनता अगली पीढ़ियों को सौंपनी पड़ती थी, लेकिन हमारा सौभाग्य है कि हमारी सरकार को इस कुचक्र से लोगों को बाहर निकालने का मौका मिला। पहले की सरकारों में प्रक्रिया पूरी करने दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे, रिश्वत देनी पड़ती थी। जिसका घर उसकी पसंद, परंपरा का कोई महत्व नहीं रह जाता था। घर अगर थोड़े बहुत बने भी तो गृह प्रवेश नहीं हो पाता था, लेकिन हमने इस स्थिति को बदला है।'

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, '2024 तक कोई गरीब कच्ची झोपड़ी में नहीं रहेगा। 1 लाख 20 हजार केंद्र और राज्य बाकी मनरेगा से डेढ़ लाख रुपए दिए जाएंगे।आज सतना में 1 लाख से अधिक मकान बन कर तैयार हैं। रीवा, सागर, बालाघाट में 1-1 लाख मकान बनाए जा चुके हैं। बीच में कांग्रेस की सरकार ने मकान बनाए थे क्या? कमलनाथ और कांग्रेस को जवाब देना होगा। लाखों गरीबों को मकान से वंचित कर दिया। उनके गाले काटे।'