Morena: चयनित शिक्षकों ने रोका केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का रास्ता

Narendra Singh Tomar: कांग्रेस सरकार में चयनित शिक्षकों ने कहा कि नियुक्ति नहीं होने पर करेंगे चुनाव का पूर्ण बहिष्कार, सरकार हमें रूला रही है तो हम बीजेपी सरकार को रूलाएंगे

Updated: Aug 31, 2020 01:21 AM IST

Morena:  चयनित शिक्षकों ने रोका केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का रास्ता

मुरैना। उपचुनाव की तैयारियों को लेकर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा रविवार से दो दिवसीय ग्वालियर, मुरैना एवं भिण्ड जिले के प्रवास पर हैं। दोनों नेता आज मुरैना दौरे पर थे। उनके विश्राम ग्रह में ठहरे होने की सूचना पा कर चयनित शिक्षक विश्राम गृह पहुंच गए। अपनी शीघ्र नियुक्ति की मांग कर रहे शिक्षकों ने सुनवाई न होने पर सड़क पर लेट कर केंद्रीय मंत्री तोमर का क़ाफ़िला रोक दिया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार शिक्षकों का कहना है कि कांग्रेस सरकार के समय परीक्षा पास कर वे चयनित हो चुके हैं। मगर उन्हें नियुक्ति नहीं दी जा रही है। वेरिफिकेशन नहीं होने से हज़ारों युवा घर बैठे हैं। शिक्षक विश्राम गृह में मंत्री तोमर से मिलने के लिए देर तक डटे रहे। जब उनकी बात नहीं सुनी गई तो वे नारे लगाने लगे और आक्रोश में  केंद्रीय मंत्री तोमर की गाडी के आगे लेट गए। विरोध प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों को पुलिस ने बलपूर्वक हटाया। शिक्षकों ने मीडिया से कहा है कि उनकी नियुक्ति नहीं होगी तो वे चुनाव का पूर्ण बहिष्कार करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार हमें रूला रही है तो हम बीजेपी सरकार को रूलाएंगे। 

मध्यप्रदेश में जल्द ही 27 सीटों पर निर्णायक उपचुनाव होने हैं। उपचुनाव में सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण ग्वालियर चंबल क्षेत्र ही है जहाँ 16 सीटों पर चुनाव होने हैं। इसी कारण बीजेपी नेता क्षेत्र के दौरे पर हैं मगर उन्हें जन आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है।