MP: बोर्ड में 40 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों के शिक्षकों की होगी परीक्षा

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जारी आदेश के मुताबिक 27 और 28 दिसंबर को होने वाली इस परीक्षा में शामिल होंगे करीब 1 हजार शिक्षक

Updated: Dec 17, 2020, 05:48 PM IST

MP: बोर्ड में 40 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों के शिक्षकों की होगी परीक्षा
Photo Courtesy: Atzone

भोपाल। मध्य प्रदेश की 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा में जिन स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने 40 फीसदी से कम परिणाम दिए हैं, अब उन स्कूलों के शिक्षकों की परीक्षा ली जाएगी। यह एग्जाम ओपन बुक पैटर्न पर आधारित होगा, जो संबंधित स्कूलों के शिक्षकों की योग्यता जांचने के लिए आयोजित किया जा रहा है। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जारी आदेश के मुताबिक 27 और 28 दिसंबर को होने वाली इस परीक्षा में करीब 1 हजार शिक्षक शामिल होंगे।

इस दौरान शिक्षक पाठ्यपुस्तक रखकर परीक्षा दे सकते हैं। पाठ्यपुस्तक के अतिरिक्त गाइड, प्रादर्श प्रश्न आदि किताबों का उपयोग नहीं कर सकेंगे। इसके जरिए शिक्षकों की दक्षता का आंकलन होगा। जानकारी के मुताबिक हाई एवं हायर सेकेंडरी विद्यालयों के शिक्षकों की परीक्षा 27 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक आयोजित होगी। वहीं माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों की परीक्षा 28 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक होगी। बता दें, कि पिछले साल भी शिक्षकों के लिए दक्षता मूल्यांकन का आयोजन किया गया था। परीक्षा में फेल होने वाले प्रदेश के 16 शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई थी।

जिन शिक्षकों के लिए परीक्षा आयोजित की जानी है, उन्हें परीक्षा के दिनांक, समय एवं स्थल की सूचना अविलंब जारी करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए गए हैं। आदेश में यह भी लिखा है कि शिक्षकों की संख्या के आधार पर जिला स्तर पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आवश्यक स्थलों का चिन्हांकन कर परीक्षा आयोजित की जाएगी। स्थल का चयन, केंद्र पर संख्या निर्धारण एवं मूल्यांकन के लिए मूल्यांकनकर्ता का चयन जिला शिक्षा अधिकारी करेंगे। परीक्षा में अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों के लिए दोबारा परीक्षा ली जाएगी।