MP: चेहरा बदलने वाला शातिर चोर, वारदात को अंजाम देने के बाद करा लेता है प्लास्टिक सर्जरी

मध्‍य प्रदेश के रायमाला में स्थित सहकारी बैंक में 18 जुलाई की रात चोरी के मामले में एक शातिर चोर को गिरफ्तार किया गया है। उसने बताया कि गिरोह का मास्टर माइंड विश्वास सिगर प्लास्टिक सर्जरी करवाकर हर बड़ी घटना के बाद अपना चेहरा बदल लेता था।

Updated: Aug 06, 2022, 04:23 PM IST

MP: चेहरा बदलने वाला शातिर चोर, वारदात को अंजाम देने के बाद करा लेता है प्लास्टिक सर्जरी

बैतूल। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां मुलताई पुलिस ने राय आमला के सहकारी बैंक में 18 जुलाई की रात हुई चोरी के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया। महाराष्ट्र के गिरोह के इस आरोपी ने राजफाश किया कि गिरोह का मास्टर माइंड विश्वास सिगर हर बड़ी वारदात के बाद अपना चेहरा बदल लेता है। वह चेहरे की प्लास्टिक सर्जरी करा लेता है। पुलिस विश्वास सहित चार आरोपियों को तलाश रही है।

बैतूल एसडीओपी नम्रता सौंधिया के अनुसार चोरों ने सहकारी बैंक के शटर व चैनल गेट को गैस कटर से काटकर बैंक का सामान, पैनल हब, सीसीटीवी कैमरा, सील सहित करीब 20 हजार का सामान चुरा लिया। दोपहर 12:00 से 3.30 बजे के बीच चोरों ने गैस कटर से चैनल के गेट के कुल छह ताले काट दिए।

इसके बाद वे जिस कमरे में तिजोरी रखी थी उसका ताला तोड़ने की कोशिश कर रहे थे, तभी बैंक का सायरन बज गया, जिससे सभी बदमाश भाग गए और तिजोरी में रखे 17 लाख रुपये बच गए। ये बदमाश वारदात को अंजाम देने के लिए मालवाहक वाहन लेकर आए थे। घटना के बाद सीसीटीवी फुटेज और टोल फास्टैग के आधार पर आरोपित शशिकांत पुत्र रामदास सिदामे निवासी गोपाल नगर अमरावती से इस मामले में पूछताछ की गई। उसने महाराष्ट्र के अमरावती निवासी सागर टांके, सुरेश उमाद, अमित निंबोरकर और विश्वास सिगार के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने की बाद स्वीकार की है।

टीआई सुनील लता के मुताबिक, विश्वास चोरी करने के बाद सिगार मोबाइल और सिम फेंक कर सर्जरी करवाता था। बैंक मैनेजर शेषराव पांसे की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 475, 380 के तहत मामला दर्ज किया गया है।