नर्मदा जयंती पर ग्वारीघाट में स्नान के लिए विशेष इंतज़ाम, घाटों पर भंडारे के आयोजन पर रोक

जबलपुर में मां नर्मदा की कुल 55 मूर्तियां स्थापित की गई हैं, भारी भीड़ उमड़ने की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं

Updated: Feb 19, 2021, 09:24 AM IST

नर्मदा जयंती पर ग्वारीघाट में स्नान के लिए विशेष इंतज़ाम, घाटों पर भंडारे के आयोजन पर रोक
Photo Courtesy: Dainik Jagran

जबलपुर। मां नर्मदा जयंती के अवसर पर आज भारी जनसैलाब उमड़ने के आसार हैं। ग्वारीघाट सहित शहर के प्रमुख घाटों पर स्नान के लिए भारी संख्या में लोगों के आने की संभावना है। ऐसे में प्रशासन भी सुरक्षा को लेकर मुस्तैद हो गया है।  शहर में जगह जगह मां नर्मदा की कुल 55 मूर्तियों को जगह जगह स्थापित किया गया है। नर्मदा के प्रति श्रद्धालुओं की आस्था को देखते हुए प्रशासन भी अपनी कमर कस चुका है।

प्रशासन ने सभी घाटों पर भंडारे के आयोजन पर रोक लगा दी है। घाटों पर डीजे के उपयोग पर भी प्रतिबंध लगाया गया है। केवल दो साउंड बॉक्स का ही घाटों पर उपयोग हो सकेगा। मेट्रो, मिनी बसों के अलावा सभी प्रकार के भारी वाहन व लोडिंग वाहन के आवागमन को भी सीमित किया गया है। इन वाहनों को रामपुर चौक तक ही जाने की अनुमति दी गई है।

दो पहिया व चार पहिया निजी वाहन रामपुर चौक से खंदारीनाला, अवधपुरी कॉलोनी होकर आयुर्वेदिक संस्थान पार्किंग परिसर दशहरा मैदान में पार्क होंगे।वापसी का मार्ग दशहरा मैदान से पुरानी रेलवे ट्रैक से रामलला मंदिर से रेतनाका, खंदारी नाला, बिगबाजार होते हुए लौटेंगे। किसी तरह की लापरवाही न बरतते हुए प्रशासन ने घाटों पर एसडीएफ के 56 जवानों की भी ड्यूटी लगा रखी है।