जन्मदिन के जलसे में बुलाकर महिला कॉन्सटेबल का किया रेप, मुख्य आरोपी गिरफ्तार, तीन फरार

नीमच का मामला, इंदौर में तैनात महिला कॉन्सटेबल अपने मित्र के बुलावे पर उसके भाई के जन्मदिन के जलसे में शिरकत करने गई, लेकिन उसके दोस्तों ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर कथित तौर पर महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया

Publish: Sep 26, 2021, 03:39 PM IST

जन्मदिन के जलसे में बुलाकर महिला कॉन्सटेबल का किया रेप, मुख्य आरोपी गिरफ्तार, तीन फरार

भोपाल। मध्य प्रदेश में कानून की रक्षा करने वाले ही सुरक्षित नहीं हैं। नीमच में एक महिला पुलिस कॉन्सटेबल के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपियों ने महिला कॉन्सटेबल के साथ पहले तो दुष्कर्म किया और फिर उसको ब्लैकमेल करना शुरु कर दिया। लगातार टॉर्चर होने के बाद महिला कॉन्सटेबल ने आखिरकार पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी। महिला की शिकायत पर पुलिस ने मामले के मुख्य आरोपी और उसकी मां को गिरफ्तार कर लिया है।  

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इंदौर में तैनात महिला पुलिस कॉन्सटेबल की नीमच के रहने वाले पवन लोहार नामक युवक से सोशल मीडिया पर दोस्ती हुई थी। आरोपी पवन और पीड़िता दोनों ही नीमच के रहने वाले हैं। लिहाज़ा दोनों के बीच जल्द ही करीबियां पनपने लगीं। दोनों का एक दूसरे से मेल मिलाप शुरु हुआ। एक दूसरे से मिलने के लिए दोनों ही नीमच और इंदौर आया जाय करते थे।  

जून महीने में पवन ने महिला को अपने भाई के जन्मदिन पर आने के लिए आमंत्रित किया। जिसके बाद महिला पुलिस कॉन्सटेबल अपने दोस्त के बुलावे पर बर्थडे पार्टी में शामिल होने नीमच पहुंच गई। इस दौरान पवन, उसका भाई और दोस्त ने मिलकर महिला के साथ सामूहि दुष्कर्म किया। जबकि एक अन्य व्यक्ति ने इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया। 

इसके बाद महिला को टॉर्चर किया जाना शुरु हो गया। आरोपी वीडियो और तस्वीरों को सार्वजनिक न करने के नाम पर महिला कॉन्सटेबल से एक लाख रुपए की डिमांड करने लगे। पीड़िता ने इस संबंध में सबसे पहले मु्ख्य आरोपी पवन की मां से शिकायत की। लेकिन पवन लोहार की मां ने पीड़िता का साथ नहीं दिया। वहीं पीड़िता को आरोपी लगातार टॉर्चर कर ही रहे थे। 

आखिरकार एक दिन इन सबसे तंग आ कर महिला ने नीमच में शिकायत दर्ज करा दी। 13 सितंबर को महिला ने पांच आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी और उसकी मां को गिरफ्तार किया है। जबकि तीन अन्य आरोपी इस समय पुलिस की पकड़ से बाहर है।