कोरोना काल में माननीय का मैनेजमेंट, बिना मास्क नजर आए रीवा के बीजेपी विधायक

रीवा जिले के सेमरिया विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक केपी त्रिपाठी ने उड़ाई कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां, आधा सैकड़ा लोगों के साथ बिना मास्क आए नजर, कांग्रेस ने उठाए सवाल, कहा शिवराज जी, ये आपके सहयोगी हैं या कोरोना के

Updated: Jun 21, 2021, 05:44 PM IST

कोरोना काल में माननीय का मैनेजमेंट, बिना मास्क नजर आए रीवा के बीजेपी विधायक
Photo Courtesy: twitter

भोपाल। रीवा के बीजेपी विधायक केपी त्रिपाठी की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। जिसमें वे और उनके समर्थक बिना मास्क के नजर आ रहे हैं। इस मामले में कांग्रेस ने सेमरिया विधायक पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने लोगों की जान जोखिम में डालने का आरोप लगाया है।

वायरल तस्वीरों में केपी त्रिपाठी 40-50 लोगों से घिरे हुए हैं। अपने सेमरिया विधानसभा क्षेत्र में वे लोगों के साथ बैठकर बातचीत कर रहे हैं। चाय नास्ते का दौर चल रहा है, इस दौरान लोग पास-पास बैठे नजर आ रहे हैं, और तो और किसी के भी चेहरे पर मास्क नहीं है, चेहरा तो क्या मजाल है किसी के गले या हाथ में भी मास्क नजर आ जाए जिससे यह लगे की भाई मास्क लगाया था थोड़ी देर के लिए हटा दिया गया होगा। और तो और इन तस्वीरों के वायरल होने के बाद जिम्मेदारों की दलीलें सामने आई हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि माननीय विधायक क्षेत्र में कोरोना वैक्सीनेशन का शुभारंभ करने पहुंचे थे, तभी किसी ने चाय के लिए आमंत्रित कर दिया, सभी ने मास्क लगाया था, शायद चाय नाश्ते के लिए हटाया गया होगा। अब इन तस्वीरों के सामने आने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है, कांग्रेस ने सवाल किया है कि क्या बीजेपी विधायक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के सहयोगी हैं या कोरोना के।

 

जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं उनमें बीजेपी विधायक केपी त्रिपाठी बड़ी संख्या में लोगों से घिरे हुए हैं। दो दर्जन से ज्यादा लोग बैठे थे वहीं बहुत से समर्थक अपने विधायक के सम्मान में हाथ बांधे खड़े दिखाई दिए।

कोरोना से दुनिया भर में हाहाकार मचा हुआ है, खुद बीजेपी विधायक केपी त्रिपाठी कोरोना की मार झेल चुके हैं। उन्हें पिछले साल सिंतबर में कोरोना संक्रमण हुआ था। मध्यप्रदेश में हजारों लोगों की जान कोरोना ने ले ली है, इसके बाद भी माननीय विधायक को किसी की जान की परवाह नहीं है।

प्रदेश में लोगों से अपील की जा रही है कि दो गज की दूरी बना कर रखी जाए, मास्क हर हाल में पहना जाए, सामाजिक आयोजनों तक में 10-20 लोगों को ही परमीशन दी जा रही है। ऐसे में टी समर्थक के यहां टी पार्टी पर सवाल उठ रहे हैं।

कोरोना की इस लहर में रीवा में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 16,425 पहुंच चुका है, 155 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 16250 लोगों ने जिले में कोरोना को मात दी है। रीवा में कोरोना एक्टिव केसों की संख्या 20 है। वहीं मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटों में प्रदेशभर में कोरोना के 87 कोरोना मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 789261 हो गया है। अब तक कोरोना से 8767 लोगों की मौत हो चुकी है। सरकार कोरोना से निपटने के तमाम प्रयास करने का  दावा करती है, लेकिन उनकी ही पार्टी के नुमाइंदे सरेआम कोरोना गाइड लाइन का मजाक बनाते नजर आ रहे हैं।