Sanwer By Election: तुलसी सिलावट पर वोट के लिए साड़ियां बांटने का आरोप

MP Congress: साड़ियां जब्त, साथ में सिलावट, सिंधिया और शिवराज के पैम्फलेट्स मिले, सिलावट का नामांकन निरस्त करने की कांग्रेस की मांग

Updated: Nov 02, 2020, 02:25 PM IST

Sanwer By Election: तुलसी सिलावट पर वोट के लिए साड़ियां बांटने का आरोप
Photo Courtesy: Twitter

सांवेर। सांवेर के बीजेपी प्रत्याशी तुलसीराम सिलावट पर वोट के लिए साड़ियां बांटने का आरोप लगा है। सिंधिया के करीबी पूर्व मंत्री तुलसी सिलावट की तरफ से मतदाताओं को बांटी जा रही साड़ियां भी जब्त की गई हैं। इन साड़ियों के साथ सिलावट, सिंधिया और शिवराज के पैम्फलेट्स भी मिले हैं। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने इसे आचार संहिता का गंभीर उल्लंघन बताते हुए सिलावट का नामांकन निरस्त करने की मांग की है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक सैटेलाइट टाउनशिप के पास साईं ऑर्किड में सिलावट की तरफ से साड़ियों का वितरण किया जा रहा था। इस बात की जानकारी जैसे ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मिली वे तुरंत मौके पर पहुंचे और जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी और पुलिस के सामने कुल 52 साड़ियों को जब्त किया गया। इन साड़ियों में सिलावट, शिवराज और सिंधिया के पैम्फलेट्स लगे हुए थे। पुलिस ने जब्त हुई साड़ियों का पंचनामा भी बनाया है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कांग्रेस के कार्यकर्ता वोटरों से साड़ियां लौटाने की अपील कर रहे हैं। वोटर सिलावट द्वारा बंटवाई गई साड़ियों को कांग्रेस कार्यकर्ताओं को लौटा रहे हैं। वीडियो में कांग्रेस कार्यकर्ता यह वोटरों से कहते सुनाई दे रहे हैं कि सभी लोग पुलिस के आने से पहले साड़ियां लौटा दें। 
 

नामांकन निरस्त करने की मांग

कांग्रेस ने इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग से करते हुए तुलसी सिलावट का नामांकन रद्द करने की मांग की है। कांग्रेस प्रवक्ता संतोष सिंह गौतम ने मुताबिक पार्टी ने निर्वाचन आयोग से कहा है कि 'बीजेपी प्रत्याशी तुलसी सिलावट का यह कृत्य आचार संहिता का खुला उल्लंघन है। अगर इस प्रकार आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई जाएंगी तो निष्पक्ष चुनाव कैसे संभव है। हम उनका नामांकन निरस्त करने की मांग कर रहे हैं।' 

आपको बता दें कि पिछले दिनों सांवेर से कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू ने इलाके के बीएलओ को इंडेक्स मेडिकल कॉलेज में फर्जी मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट में जोड़ते हुए रंगे हाथों पकड़ा था। इसकी शिकायत भी चुनाव आयोग से की गई थी। हाल ही में बड़ी मात्रा में शराब की खेप और नोटों का जखीरा भी सांवेर इलाके में पकड़ा गया था, जिस पर कांग्रेस नेता ने आपत्ति जताते हुए कार्रवाई की मांग की थी। 

निष्पक्ष वोटिंग न होने की आशंका

बीते हफ्ते ही प्रेमचंद गुड्डू ने सांवेर में निष्पक्ष चुनाव होने को लेकर संदेह जाहिर किया था। उन्होंने स्ट्रांग रूम की व्यवस्था पर असंतोष जाहिर किया था, साथ ही मतपत्रों से हुई वोटिंग के दौरान तकनीकी खराबी आने और वोटर लिस्ट नहीं देने पर कहा था कि ऐसे में बीजेपी धांधली कर सकती है।