Shivraj Singh: कुछ चुनिंदा लोग सावधानी नहीं बरत रहे हैं

बिना Mask अस्पताल में वीडियो बनवाने पर Congress के निशाने पर शिवराज सिंह चौहान, ब्रांडिंग के लिए अस्पताल में वीडियोग्राफी पर सवाल

Updated: Jul 27, 2020 06:14 PM IST

Shivraj Singh: कुछ चुनिंदा लोग सावधानी नहीं बरत रहे हैं

भोपाल। MP में CM शिवराज सिंह चौहान सहित BJP नेता कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। सोशल डिसटेंट और लॉकडाउन का पालन नहीं करने के कारण ये सभी नेता आलोचना झेल रहे है। कोविड अस्पताल में इलाज करवा रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चिरायु अस्पताल में पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम मन की बात को सुनने का वीडियो जारी कर घिर गए हैं। बिना मास्क लगाए मास्क लगाने की हिदायत देने के कारण भी CM चौहान की आलोचना हो रही है। 

सीएम चौहान ने ट्वीट कर कोरोना पर लापरवाही पर सलाह दी है। शिवराज ने लिखा है कि यह सत्य है कि कुछ चुनिंदा लोग सावधानी नहीं बरत रहे हैं। वे अपनी जान तो खतरे में डाल ही रहे हैं, साथ ही दूसरों की जान के लिए भी खतरा पैदा कर रहे हैं। सभी से पुनः आग्रह है, आप नियमों का सख्ती से पालन करें।यह अपील करने वाले CM ने खुद मास्क नहीं लगाया हुआ है।  

CM चौहान ने टीवी पर मन की बात कार्यक्रम देखते हुए तस्वीर भी साझा की है। चौहान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें वह अस्पताल में मन की बात कार्यक्रम को सुनते हुए देखे जा सकते हैं। कांग्रेस ने सीएम के इस वीडियो पर सवाल उठाए हैं। मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने सीएम शिवराज से पूछा है कि क्या अपनी ब्रांडिंग के किए कोविड-19 अस्पताल में वीडियोग्राफी के लिए बाहरी व्यक्ति को बुलाना उचित है?

सीएम शिवराज सिंह चौहान शनिवार (25 जुलाई) को कोरोना संक्रमित होने के बाद राजधानी भोपाल स्थित निजी कोविड-19 डेडिकेटेड अस्पताल में भर्ती हुए थे। प्रदेश के मुख्यमंत्री का एम्स जैसे सरकारी अस्पताल होने के बावजूद निजी अस्पताल में भर्ती होने पर सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स उन्हें निशाने पर ले रहे थे। लोगों का कहना था कि सरकार को जब सरकारी अस्पताल पर भरोसा नहीं है तो आम जनता को भरोसा कैसे होगा? यह किसकी विफलता है? 

क्या जरूरी था अस्पताल में वीडियो शूट करना ?

मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने सीएम को निशाने पर लेते हुए तीन सवाल पूछे हैं। उन्होंने कहा कि, 'क्या अस्पताल में इस तरह वीडियो बनाना उचित और आवश्यक है? क्या अस्पताल में स्वास्थ लाभ लेने के स्थान पर केवल अपनी ब्रांडिंग हेतु वीडियोग्राफी के लिए बाहरी व्यक्ति या व्यक्तियों को बुलाना उचित है? क्या अपनी ब्रांडिंग के लिए शिवराज सिंह ने अन्य व्यक्ति या व्यक्तियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं किया?

अस्पताल में चल रही भाजपाई कार्य प्रणाली

मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने भी सीएम की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा है कि, 'शायद यह जनरल वार्ड दिखाया जा रहा है जहां अन्य सभी पलंग ख़ाली पड़े हैं इस से साफ़ है कि अस्पताल में भी भाजपाई कार्य प्रणाली चल रही है। होता कुछ है दिखाते कुछ हैं।' बता दें कि सीएम का जो वीडियो वायरल हो रहा है उसमें देखा जा सकता है कि सीएम के बेड के बगल में एक और बेड है जो खाली है।