शिवराज के मंत्रियों के बोल हुए आउट ऑफ कंट्रोल, बृजेंद्र सिंह यादव बोले, महंगाई बढ़ना कोई नई बात नहीं है

प्रदेश की बेचारी जनता महंगाई की मार से दबी जा रही है, सत्ता के मद में मंत्रियों को वह केवल जरा सी मूल्य वृद्धि नजर आ रही है, किसी ने कहा कि महंगाई से ज्यादा सरकार ने बांट दिया, तो किसी ने नसीहत देते हुए कहा कि साइकिल चलाएं

Publish: Jul 12, 2021, 02:46 PM IST

शिवराज के मंत्रियों के बोल हुए आउट ऑफ कंट्रोल, बृजेंद्र सिंह यादव बोले, महंगाई बढ़ना कोई नई बात नहीं है
Photo Courtesy: twitter

भोपाल। एक तो कोरोना महामारी, दूसरा देश में महंगाई की मार से जनता परेशान है। लेकिन जनता के दुखों को कम करने के बजाए मंत्रियों के बेतुके बयान सामने आ रहे हैं। शिवराज सरकार के एक और मंत्री का विवादित बयान सामने आया है, इस बार सिंधिया समर्थन में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव ने लोगों से कहा है कि देश में पहली बार महंगाई नहीं बढ़ी है। इससे पहले भी बढ़ी है। महंगाई बढ़ना कोई नई बात नहीं है, सरकार ने इससे ज्यादा तो फ्री में बांट दिया है।

और पढ़ें: महंगाई पर पूछा गया सवाल तो मंत्री सखलेचा ने कहा, जीवन में कठिनाई ही कराती है सुख की अनुभूति

उज्जैन से शाजापुर पहुंचे प्रभारी मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव ने यह बयान दिया है। मंत्री जी ने आसमान छूते पेट्रोल के दामों पर सरकार का ही पक्ष लिया, उन्होंने बचाव करते हुए कहा सरकारी योजनाओं में जो पैसा खर्च होता है, उसकी वजह से ही महंगाई थोड़ी बढ़ी है। मंत्री जी के इस तरह के बेतुके बयान से जनता में रोष हैं। लगातार बढ़ती महंगाई से आम इंसान का घर चलाना दुश्वार हो रहा है। महंगाई के बोझ के नीचे गरीब जनता दबी जा रही है, लेकिन यह शिवराज के मंत्री के लिए छोटी सी बात है। जब माननीय मंत्रीजी से महंगाई को लेकर प्रश्न किया गया तो वे दूसरे किस्से गिनाते हुए बोले कि यह कोई पहली बार नहीं है, इससे पहले भी वस्तुओं के दाम बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि पहले किसानों की उपज औनी पौनी कीमतों में बिका करती थी, लेकिन अब अच्छे रेट्स मिलने लगे हैं। सरकार ने तो इससे ज्यादा बांट दिया है।

 यह पहल मौका नहीं है जब मध्यप्रदेश के माननीय के बेतुके बोल सामने आए हैं। इससे पहले भी आए दिन प्रदेश के मंत्री लोगों के जले पर नमक पर छिड़कने का काम करते रहे हैं। कोई आध्यात्मिक होते हुए लोगों को कठिन समय में सुख की अनूभूति करने का सलाह देता है, तो कोई लोगों को बढ़ते पेट्रोल डीजल के दामों पर साइकिल चलाने की नसीहत दे डालता है।

हाल ही में छतरपुर के प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने महंगाई को सुखदायक बता डाला। उन्होंने कहा कि जिंदगी में परेशानी ही सुख का आनंद देती है, जब तक परेशानी न आए, तब तक सुख का आनंद भी नहीं आता है। वहीं पेट्रोल की बेकाबू किमतों को ओमप्रकाश सकलेचा ने अफवाह कह डाला।

और पढ़ें: आमिर खान जैसे लोगों की वजह से बढ़ रही है आबादी, ऐसे लोगों को अंडा ही बेचना चाहिए, बीजेपी सांसद सुधीर गुप्ता का विवादित बयान

वहीं इससे पहले पेट्रोल-डीजल महंगा होने पर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने लोगों को साइकिल चलाने की सीख दे डाली। उन्होंने साइकिल के फायदे गिनाते हुए कहा कि उनकी सरकार तेल से मिली कमाई का खर्चा गरीबों के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं में खर्च कर रही है।

पेट्रोल डीजल के आसमान छूने की बात पर उन्होंने कहा था कि इस बार में बात करने पर लोग पहले भी उनकी आलोचना कर चुके हैं। उन्होंने लोगों से एक के बाद एक कई सवाल किए औऱ कहा कि इससे सेहत तो अच्छी रहेगी प्रदूषण भी नहीं होगा, सब लोग स्वस्थ्य रहेंगे। साथ ही उन्होंने एक सवाल भी दाग दिया की "हमारे लिए पेट्रोल-डीजल महत्वपूर्ण हैं या देश की स्वास्थ्य सेवाएं? 

एक एक करके मध्यप्रदेश के मंत्री अपना असली चेहरा दिखा रहे हैं। उनके इस तरह के बेसिर पैर के बयानों से साफ नजर आ रहा है कि प्रदेश की जनता के दुख दर्द से उनका कोई वास्ता नहीं है। उनका तो शायद यही कहना हो सकता है अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता। तभी तो सरकारी खर्चे पर महंगी गाड़ियों का आनंद उठाने वाले मंत्री जी के कानों में जूं तक नहीं रेंगती। भले ही ईंधन, रसोई गैस समेत आम इंसान के उपयोग की वस्तुओं के दाम आसमान ही क्यों ना छूने लगे।