इंदौर में आख़िरकार पकड़ा गया तेंदुआ, 23 घंटे में 6 लोगों को किया घायल

इंदौर वन विभाग की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद तेंदुए को पकड़ा, खंडवा रोड के रिहायशी इलाके में मचाया उत्पात, महिला और सात महीने की बच्ची समेत 6 घायल

Updated: Mar 11, 2021, 03:48 PM IST

इंदौर में आख़िरकार पकड़ा गया तेंदुआ, 23 घंटे में 6 लोगों को किया घायल
Photo Courtesy : Praveen Barnale

इंदौर। खंडवा रोड की रिहायशी कालोनी में दहशत मचाने वाला आदमखोर तेंदुआ आखिरकार पकड़ लिया गया। वन विभाग ने करीब 23 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद उसे पकड़ लिया है। इसके लिए खासे इंतजाम किए गए थे। वन विभाग की टीम तेंदुए को ट्रैंक्वेलाइज़र के जरिए बेहोश करके पकड़ा है। उसके लिए बड़ा जाल भी बिछाया गया था। पकड़े जाने से पहले तेंदुए ने बुधवार को फॉर्म हाउस और गुरुवार को तेजाजी नगर थाना इलाके में उसने जमकर आतंक मचाया। तेंदुआ इस दौरान एक घर में भी घुस गया, जहां उसने एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत 4 लोगों को घायल कर दिया था।  

बताया जा रहा है कि लिंबोदी स्थित रहवासी क्षेत्र से पहले तेंदुआ झाबुआ फार्म हाउस में घुसा था। फिर वहां से निकलकर कॉलोनी में घुस गया। इलाके में वन विभाग की टीम ने मोर्चा सम्हाल लिया। इलाके में कर्फ्यू जैसे हालात बन गए थे, लोगों ने खुद को घरों में बंद कर लिया था। दुकानें भी बंद करवा दी गई थीं।

लिंबोदी क्षेत्र की कॉलोनी में यह तेंदुआ खेमराज राठौर नाम के शख्स के यहां घुस गया था। उसने उन्हें और उनकी पत्नी को घायल कर दिया। उनकी पत्नी खाना बना रही थीं और खेमराज बाथरुम में थे, तभी उसने दोनों को घायल कर दिया। वहां से निकलकर तेंदुआ एक निर्माणाधीन मकान में घुसा,जहां उसने चौकीदार की नातिन को दबोच लिया था। चौकीदार के शोर मचाने पर उसे छोड़ दिया और चौकीदार को घायल कर दिया। जब वन विभाग ने उसे पकड़ लिया, तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली।