मंदसौर: मातम में बदली होली, तालाब में डूबने से दो छात्रों की मौत

शामगढ़ में होली खेलने के बाद ग्यारहवीं के तीन छात्र तालाब में नहाने गए थे, एक छात्र को तैराक ने सुरक्षित बचा लिया जबकि दो छात्रों की डूबने से मौत हो गई

Publish: Mar 30, 2021, 10:08 AM IST

मंदसौर: मातम में बदली होली, तालाब में डूबने से दो छात्रों की मौत
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

मंदसौर। मध्यप्रदेश के मंदसौर में महापर्व होली अपने साथ साथ मातम का साया लेकर आई। ज़िले के शामगढ़ में तालाब में डूबने से ग्यारहवीं में पढ़ने वाले दो छात्रों की मौत हो गई। जबकि एक छात्र को तैराक ने सुरक्षित बचा लिया। तीनों रंग खेलने के बाद नहाने के लिए तालाब में गए थे। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार सुबह शामगढ़ ग्यारहवीं में पढ़ने वाले तीन छात्र गोपाल, विशाल और संकल्प होली खेलने के लिए अपने घर से निकले थे। रंग खेलने के बाद दोपहर में तीनों अपने गांव से पांच किलोमीटर दूर जूनापानी गांव में स्थित एक तालाब में नहाने के लिए गए। जहां यह दुखद घटना हुई।  

तीनों छात्रों में से संकल्प को वहां मौजूद तैराक रोशन पंजाबी ने देख लिया था। संकल्प पर नज़र पड़ते ही तैराक तालाब में कूद गया और उसे आनन फानन में अस्पताल ले गया। करीब आधे घंटे के बाद जब संकल्प को होश आया तो उसने बताया कि उसके दो अन्य साथी भी तालाब में डूबे हैं। 

संकल्प द्वारा यह बताने पर तालाब में डूबे दो अन्य छात्र को डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। लेकिन तब तक वे मृत हो चुके थे। मृतक छात्र विशाल और गोपाल दोनों ही अपने मां बाप के इकलौते बेटे थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिस तालाब में छात्र डूबे वो तालाब करीब 15 फीट गहरा है।  

छात्रों की मौत के बाद शामगढ़ तहसीलदार ने बताया कि मृतकों के परिजनों के मुआवजे का एक प्रस्ताव भेजा जाएगा। तहसीलदार आरएल पूनिया के मुताबिक पानी में डूबने से मरने वाले मृतकों के परिजनों को चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का प्रावधान है। लिहाज़ा मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी।