12 राज्यों और 2 UTs से गुजरेगी भारत जोड़ो यात्रा, हाईलेवल मीटिंग के बाद मीडिया से मुखातिब हुए दिग्विजय सिंह

कांग्रेस की ओर से प्रस्तावित "भारत जोड़ो यात्रा" के लिए दिग्विजय सिंह की अध्यक्षता में गठित सेंट्रल प्लानिंग ग्रुप ने आज AICC को प्रस्तुत की विस्तृत योजना, सभी प्रदेश के अध्यक्षों ने दी स्वीकृति, पूर्व निर्धारित तिथि से पहले यात्रा शुरू होने की संभावना

Updated: Jul 14, 2022, 06:29 PM IST

12 राज्यों और 2 UTs से गुजरेगी भारत जोड़ो यात्रा, हाईलेवल मीटिंग के बाद मीडिया से मुखातिब हुए दिग्विजय सिंह

नई दिल्ली। कांग्रेस की ओर से प्रस्तावित "भारत जोड़ो यात्रा" के लिए दिग्विजय सिंह की अध्यक्षता में गठित सेंट्रल प्लानिंग ग्रुप ने आज AICC दफ्तर में कांग्रेस नेताओं के साथ यात्रा से जुड़े विस्तृत योजना को साझा किया। इस अहम बैठक के बाद प्लानिग कमेटी के प्रमुख दिग्विजय सिंह ने मीडिया से बातचीत की और यात्रा से जुड़ी तमाम जानकारियां दी। सिंह ने बताया कि कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक करीब 3500 किलोमीटर की यह यात्रा 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी।

दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस मुख्यालय से मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सेंट्रल प्लानिंग कमेटी के सभी सुझावों को कांग्रेस नेताओं और राज्य इकाइयों के अध्यक्षों ने स्वीकृति दे दी है। कांग्रेस पार्टी इस यात्रा को पूर्व निर्धारित तिथि से पहले शुरू करने को लेकर भी विचार कर रही है। यह सारी दूरी पदयात्रा के रूप में तय की जाएगी। इस पदयात्रा में कांग्रेस पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता शामिल होगें। इस यात्रा में देश के कोने कोने से कई अन्य यात्राएं शामिल होंगी।  

सिंह ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, 'विभाजनकारी शक्तियां आज देश में राज कर रही है, जिस तरह से संवैधानिक संस्थाओं को प्रभावित किया जा रहा है ऐसे समय में हम सभी लोगों से एकता बनाए रखने की प्रार्थना करते हैं। विविधता में एकता भारत की शक्ति रही है। कांग्रेस ने आजादी की लड़ाई में जिस तरह देश को एकजुट किया, उसी तरह आजादी के बाद जितने में प्रधानमंत्री हुए उन्होंने संविधान और देश को मजबूती दी। लेकिन 2014 के बाद से पीएम मोदी ने भारत के संविधान के खिलाफ जो कदम उठाए हैं वो आपके सामने हैं। उनकी नीतियों के कारण महंगाई बढ़ी है। किसान मजदूर और युवा सब परेशान हैं। सरकारी संपत्तियों को बेचा जा रहा है।'

दिग्विजय सिंह ने इस दौरान कांग्रेस की और से जारी प्रेस विज्ञप्ति को पढ़ते हुए कहा कि, 'मोदी सरकार और बीजेपी द्वारा हमारे लोकतंत्र, देश के संविधान और हमारे समाज के सामाजिक ताने बाने पर बार बार हो रहे उग्र रूप से हमलों को समझते हुए कांग्रेस पार्टी भारत जोड़ो यात्रा की निर्धारित तिथि से पहले भी शुरू करने की संभावनाओं पर विचार कर रही है। स्वतंत्रता के 75 वर्षों के बाद कांग्रेस उन सभी का धन्यवाद करती है जिन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और जिन्होंने फूट डालो और राज करो की राजनीति को पराजित किया। विभाजन के गहरे घावों पर मरहम लगाया तथा देश को महान संविधान देने के लिए साथ आए और भारत को प्रगति, समृद्धि और सद्भाव के रास्ते पर आगे बढ़ाया।'

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग के लिए कांग्रेस MLAs को एक करोड़ का ऑफर, कमलनाथ का बड़ा बयान

सिंह ने कहा कि, 'आज जब नफरत की राजनीति का अनुपालन उन लोगों के द्वारा किया जा रहा है जिन्होंने कभी भी देश की आजादी के लिए संघर्ष में हिस्सा नहीं लिया और जिनकी विचारों के परिणामस्वरूप राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या हुई। इन परिस्थितियों में भारत जोड़ो यात्रा उन सभी भारतीयों को एक सूत्र में बांधने का एक राष्ट्रीय आंदोलन है। जो लोग नफरत, कट्टरवाद, ध्रुवीकरण की राजनीति से लड़ने के प्रति समर्पित हैं, जो ये मानते हैं की सरकार की ध्यान विभाजनकारी राजनीति के अपेक्षा करोड़ों युवाओं को उत्पादक रोजगार प्रदान करने, करोड़ों परिवारों को असहनीय मूल्यवृद्धि से निजात दिलाने पर होना चाहिए उनका स्वागत है।'

उन्होंने समान विचारधारा वाले राजनीतिक दलों, नागरिक समूहों, व्यापारिक और व्यवसायिक संघों एवं सभी देशवासियों से आह्वान किया कि वे सभी भारत जोड़ो यात्रा में उत्साह पूर्वक शामिल हों। इस दौरान कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख जयराम रमेश ने बताया कि अगले महीने 9 अगस्त से लेकर 15 अगस्त तक हर जिले में कांग्रेस 75 किलोमीटर की यात्रा निकली जाएगी। बीजेपी जो देश को विभाजित करने में लगी है, उसके भारत तोड़ो अभियान का जवाब है भारत जोड़ो यात्रा।