बीजेपी सांसद सनी देओल लापता, पठानकोट में चौक-चौराहों पर लगे गुमशुदगी के पोस्टर्स

सांसद बनने के बाद कभी क्षेत्र में नहीं गए सनी देओल, लोगों ने मांगा इस्तीफा, पठानकोट में घरों, रेलवे स्टेशन, वाहनों, दीवारों पर लगे गुमशुदगी के पोस्टर्स

Updated: Oct 07, 2022, 03:40 PM IST

बीजेपी सांसद सनी देओल लापता, पठानकोट में चौक-चौराहों पर लगे गुमशुदगी के पोस्टर्स

पठानकोट। पंजाब के पठानकोट में घरों, रेलवे स्टेशन, वाहनों, दीवारों और चौक-चौराहों पर भाजपा सांसद सनी देओल के गुमशुदा होने के पोस्टर चिपकाए गए। सनी देओल की तस्वीर के साथ पोस्टर पर लिखा है कि गुरुदासपुर के सांसद सनी देओल लापता हैं। उनकी तलाश है। पोस्टर में सनी देओल की फोटो बीच में लगी हुई है और फोटो के ऊपर लिखा गया है 'गुमशुदा की तलाश'। फोटो के नीचे लिखा है- 'सनी देओल (सांसद गुरदासपुर)'। 

दरअसल, लोगों का कहना है कि अभिनेता से नेता बने सनी देओल 2019 लोकसभा चुनाव के बाद से क्षेत्र में कभी आए ही नहीं हैं। इसी बात को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। गुस्साए स्थानीय लोगों ने कहा कि अगर देओल काम नहीं करना चाहते हैं तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। हालांकि, हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार देओल ने गुरदासपुर-पठानकोट क्षेत्र का पिछली बार सितंबर 2020 में दौरा किया था।

यह भी पढ़ें: रसातल में गया रुपया, डॉलर के मुकाबले पहली बार 82 के पार

स्थानीय युवाओं ने कहा कि सनी देओल ने वहां के लिए कोई एमपी फंड आवंटित नहीं किया है और ना ही केंद्र सरकार की कोई योजना वहां लाए हैं। वह खुद को पंजाब का बेटा कहते हैं लेकिन उन्होंने यहां कोई विकास नहीं किया है। अगर वह काम नहीं करना चाहते हैं तो उनको अपना इस्तीफा दे देना चाहिए। 

बता दें कि इससे पहले भी कई बार पठानकोट और गुरदासपुर में सनी देओल के लापता होने के पोस्टर लग चुके हैं। इसी साल मई और उससे पहले जनवरी में सनी देओल के लापता होने के पोस्टर पठानकोट में लगाए गए थे। दरअसल लंबे समय से सनी देओल पर जीत के बाद अपने संसदीय क्षेत्र में नहीं जाने के आरोप लगते रहे हैं। संसदीय क्षेत्र में नहीं आने पर विपक्ष भी उन पर कई बार हमला बोल चुका है।