यूपी के मेरठ में 10वीं की छात्रा से गैंगरेप के बाद आरोपियों ने जबरन पिलाया जहर, पुलिस ने कहा छात्रा ने की आत्महत्या

10वीं की छात्रा से गैंगरेप के बाद जबरन खिलाया जहर, ट्यूशन में साथ पढ़ने वाले युवक ने तीन साथियों के साथ मिलकर की घिनौनी हरकत, दो गिरफ्तार

Updated: Apr 03, 2021, 01:09 PM IST

यूपी के मेरठ में 10वीं की छात्रा से गैंगरेप के बाद आरोपियों ने जबरन पिलाया जहर, पुलिस ने कहा छात्रा ने की आत्महत्या
Photo Courtesy: ndtv

मेरठ। उत्तर प्रदेश में मासूम लड़कियों की जान और इज्जत दोनों सुरक्षित नहीं हैं। मेरठ के सरधना में ट्यूशन से लौट रही 10वीं की छात्रा से गैंगरेप और जहर देकर मारने का मामला सामने आया है। छात्रा से दुष्कर्म और हत्या के मामले को पुलिस आत्महत्या का केस बता रही है। छात्रा के परिजनों का कहना है कि छात्रा गुरुवार दोपहर ट्यूशन पढ़ने गई थी। जब वह लौटी तो बदहवास हालत में घर आई और घर वालों को बताया कि गांव के चार लोगों ने उसे अगवा करके उसके साथ घिनौनी हरकत की है। और जबरन जहर पिला दिया है। बेटी की बात सुनकर घरवाले उसे लेकर अस्पताल के लिए निकले लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

 इस मामले में परिजनों ने पुलिस से शिकायत की। परिजनों ने बेटी के बताए अनुसार चारों आरोपियों के खिलाफ नामजद शिकायत की। पुलिस ने गांव में दबिश दी जिसके बाद दो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। देहात थाना पुलिस का दावा है कि छात्रा ने आत्महत्या की है, और घर से सुसाइड नोट मिलने की  बात कही जा रही है।

जबकि इस मामले में पुलिस का कहना है कि छात्रा किसी कदर घर पहुंची और परिजनों को पूरी बात बताई। बाद में घटना से दुखी छात्रा ने घर पर जहर खा लिया। जिसके बाद हालत खराब होने पर परिजन अस्पताल ले गए जहां उसकी मौत हो गई।  

 

 

जबकि परिजन कह रहे हैं कि छात्रा ने दम तोड़ने से पहले गांव के लखन और उसके तीन साथियों पर अगवा कर गैंगरेप का आरोप लगाया था। छात्रा ने बताया था कि उन्होंने जबरन उसे जहर पिला दिया है। 

 

वहीं मेरठ के एसपी देहात केशव कुमार से मिली जानकारी के अनुसार केस दर्ज कर जांच जारी है। छात्रा के घर से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें लखन और विकास समेत चार लोगों के नाम का जिक्र है। चिट्ठी के आधार पर लखन औऱ विकास को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दो आरोपियों की तलाश जारी है। लखन भी छात्रा के साथ उसी ट्यूशन में पढ़ने जाता था। फिलहाल मामले की जांच जारी है।