मोदी सरकार ने किचन में लागू कर दी है धारा 144, बढ़ती महंगाई पर कांग्रेस ने साधा निशाना

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने देश भर में बढ़ते सब्जी के दामों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है, कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि महंगाई एक ऐसा मुद्दा जिसके आधार पर सरकारों के कामों का आकलन होना चाहिए

Updated: Nov 24, 2021, 10:27 AM IST

मोदी सरकार ने किचन में लागू कर दी है धारा 144, बढ़ती महंगाई पर कांग्रेस ने साधा निशाना

नई दिल्ली। देशभर में बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला है। देश के विभिन्न हिस्सों में आसमान छूते सब्जी के दामों को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है जैसे मोदी सरकार ने आम आदमी के किचन में धारा 144 लागू कर दी है। 

पवन खेड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि आज प्याज, टमाटर, भिंडी, शिमला मिर्च इत्यादि सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। आलम यह है कि लोग खाने की चीजों पर कटौती करने लगे हैं। ऐसा लग रहा है मानो मोदी सरकार ने आम लोगों ने किचन में धारा 144 लागू कर दी है। लोग अपने किचन में चार से ज्यादा प्याज टमाटर नहीं रख सकते। 

पवन खेड़ा ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान असल मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए मीडिया को भी जमकर लताड़ लगाई। पवन खेड़ा ने कहा कि यही वो आम लोगों के हित से जुड़े ऐसे मुद्दे हैं जिस पर विमर्श होना चाहिए और सरकारों के कामों का आंकलन किया जाना चाहिए। लेकिन देश के विमर्श में आजकल ऐसे मुद्दे छाए हैं जिनका वास्तविकता से कोई सरोकार नहीं है। 

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आज टमाटर, भिंडी के दाम सौ के पार पहुंच गए हैं। शिमला मिर्च और प्याज के दाम आसमान छू रहे हैं। खुद दिल्ली वासियों को एक किलो टमाटर खरीदने के लिए अपनी जेब से 120 रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं। पवन खेड़ा ने प्रधानमंत्री मोदी के अंध समर्थकों का जिक्र करते हुए कहा कि जो लोग मोदी जी पर मर-मिटने को तैयार हो जाते थे, आज खुद उन लोगों की कमर को महंगाई ने तोड़ रखा है। वे सभी महंगाई की मार से त्रस्त हैं। पवन खेड़ा ने शायराना अंदाज में मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि 'भूख, महंगाई और गरीबी इश्क मुझसे कर रही हैं, एक होता तो निभाता, तीनों मुझ पर मर रही हैं।' 

दरअसल देश के अनेक हिस्सों में सब्जियों के दाम तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। खासकर टमाटर के दामों में भारी बढ़ोतरी देखी जा रही है। ऐप बेस्ड ग्रॉसरी स्टोर्स में भी टमाटर सौ रुपए के पार बिक रहा है। खुद टमाटर के बड़े उत्पादक राज्य आंध्र प्रदेश में भी इसकी कीमत सौ के पार बतायी जा रही है। 

टमाटर की बढ़ती कीमतों को लेकर बड़ा कारण आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक में भारी बारिश के कारण टमाटर की फसल का खराब होना माना जा रहा है। वहीं पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी भी दाम बढ़ने का बड़ा कारण है। थोक कारोबारी ऑनलाइन प्लेटफार्म द्वारा टमाटर की जमाखोरी को भी कीमतों में आई तेजी का कारण मान रहे हैं।