दिल्ली से आने वाले यात्रियों का यूपी में रेलवे स्टेशन पर ही होगा कोरोना टेस्ट

दिल्ली से यूपी आने वाले रेल यात्री बिना कोरोना जांच कराये स्टेशन से बाहर नहीं जाएंगे, दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से फ़ैसला

Updated: Nov 19, 2020, 11:00 AM IST

दिल्ली से आने वाले यात्रियों का यूपी में रेलवे स्टेशन पर ही होगा कोरोना टेस्ट
Photo Courtesy: Indian Express

चंदौली। दिल्ली में कोरोना की रफ्तार को देखते हुए बाकी राज्य भी सतर्क हो गए हैं। उत्तर प्रदेश की सरकार ने अब दिल्ली से आने वाले यात्रियों का कोरोना टेस्ट करना शुरू कर दिया है। दिल्ली से ट्रेनों के जरिए यूपी आने वाले यात्रियों का कोरोना टेस्ट अब रेलवे स्टेशन पर ही कराया जाएगा। पॉजिटिव पाए जाने वाले यात्रियों को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। यूपी सरकार के आदेश अनुसार, कोई भी यात्री बिना कोरोना जांच कराये स्टेशन से बाहर नहीं जाएगा।

वाराणसी से सटे चंदौली में तो ज़िला प्रशासन ने इस काम के लिए दीन दयाल उपाध्याय नगर यानी मुगलसराय के रेलवे स्टेशन पर 16 डॉक्टरों की ड्यूटी लगा दी है। इससे पहले नोएडा प्रशासन ने दिल्ली-नोएडा बोर्डर पर रैंडम रैपिड एंटीजन कोरोना टेस्टिंग शुरू की थी।

चंदौली में डीएम के आदेश के बाद सीएमओ ने निर्देश जारी कर दिए हैं, बुधवार रात दस बजे से यात्रियों की जांच शुरू की जा चुकी है। यात्रियों की यह जांच रैपिड एंटीजेन किट से होगी। रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही यात्री को स्टेशन के बाहर जाने दिया जाएगा। दरअसल छठ पूजा के चलते काफी संख्या में यात्री मुगलसराय स्टेशन पर पहुंच रहे हैं। यहां से ये यात्री वाराणसी समेत आसपास के दूसरे जिलों या फिर चंदौली में ही अपने घरों के लिए जाते हैं। जिसे देखते हुए ज़िला प्रशासन यहां विशेष रूप से सतर्क है।

दिल्ली में बढ़ते कोरोना को देखते हुए नोएडा प्रशासन पहले से ही अलर्ट हो गया है। डीएनडी फ्लाईवे पर दिल्ली की तरफ से आने वाले यात्रियों के रैंडम टेस्ट किए जा रहे हैं। डीएम के निर्देश पर कोविड टेस्टिंग टीम डीएनडी और चिल्ला नोएडा-दिल्ली सीमा पर तैनात की गई है। आपको बता दें कि इस वक्त पूरे देश में कोरोना के नए मामले सबसे ज़्यादा दिल्ली में देखने को मिल रहे हैं। बढ़ती ठंड, प्रदूषण और त्योहारों के सीज़न में बाज़ारों में बढ़ी भीड़ का मिलाजुला असर अचानक कोरोना के मामलों में हो रही इस बढ़ोतरी के लिए काफी हद तक ज़िम्मेदार है।