भारत में कोरोना से मौतों का आंकड़ा तीन लाख पार, दुनियाभर में करीब 35 लाख लोगों ने गंवाई जान

अमेरिका और ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा कोरोना से मौतें भारत में हुई हैं, पिछले साल से लेकर कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की कुल संख्या 3 लाख को पार कर चुकी है

Updated: May 24, 2021, 12:28 PM IST

भारत में कोरोना से मौतों का आंकड़ा तीन लाख पार, दुनियाभर में करीब 35 लाख लोगों ने गंवाई जान
Photo Courtesy: India Today

नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर में भारत में संक्रमण से होने वाली मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। भारत में इस जानलेवा बीमारी से मरने वाले लोगों की आधिकारिक संख्या 3 लाख को पार कर चुकी है। भारत दुनिया का ऐसा तीसरा देश है जहां कोरोना वायरस ने तीन लाख से ज्यादा लोगों की जान ली है।

कोरोना से होने वाली मौत के मामले में दुनियाभर में भारत तीसरे स्थान पर है। दुनियाभर में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में इस वायरस ने 5 लाख 89 हजार 703 लोगों की जान ली है। यूएस में अबतक 3 करोड़ 31 लाख 5 हजार 188 लोग इस संक्रमण के चपेट में आ चुके हैं। अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा प्रभावित देश ब्राजील है। यहां अबतक 4 लाख 48 हजार 208 लोगों की मौत हुई है। वहीं संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 65 लाख के करीब है।

यह भी पढ़ें: एलोपैथी को लेकर मूर्खतापूर्ण टिप्पणी पर घिरे रामदेव, स्वास्थ्य मंत्री बोले- दुर्भाग्यपूर्ण बयान वापस लें

संक्रमितों के हिसाब से भारत दुनियाभर में दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश है। भारत में रविवार तक 2 करोड़ 65 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। दुनियाभर में कोरोना की चपेट में आकर करीब 35 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। दुनियाभर में 16 करोड़ 70 लाख से ज्यादा लोग अबतक कोरोना वायरस के चपेट में आ चुके हैं।

भारत में कोरोना की दूसरी लहर का ग्राफ अब तेजी से नीचे आने लगा है। हालांकि, चिंता की बात यह है कि दैनिक मौतों के मामले अब भी डरावने हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार पिछले कई हफ्तों से मौतों का आंकड़ा 3,500 से 4,500 के बीच बरकरार है। हालांकि, कई लोगों का मानना है कि सरकारी आंकड़ों के मुकाबले मौतों का वास्तविक आंकड़ा कई गुना ज्यादा है। श्मशान और कब्रिस्तान में लगी लाइनें भी इस बात की गवाही दे रहीं हैं। 

यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन की सिंगल डोज है नाकाफी, रिसर्च का दावा ऑक्सफोर्ड एस्ट्रोजेनेका है 87 से 90 फीसदी कारगर

पिछले एक हफ्ते में पॉजिटिव मामलों की संख्या में आई भारी गिरावट के बावजूद भी अभी ढाई लाख के करीब नए मामले प्रतिदिन दर्ज किए जा रहे हैं। दो हफ्ते पहले देश में जब कोरोना का पीक था तब तो 4 लाख से भी ज्यादा पॉजिटिव केस हर रोज दर्ज किए जा रहे थे। वर्तमान समय में भी देश में 28 लाख के करीब सक्रिय मामले हैं। इससे देश की स्वास्थ्य सुविधाओं पर भारी बोझ पड़ा है। हालांकि, एक्सपर्ट्स का मानना है कि सक्रिय मामलों की वास्तविक संख्या इससे काफी ज्यादा है, लेकिन ग्रामीण इलाकों में टेस्टिंग की पर्याप्त सुविधा न होने के कारण वह दर्ज नहीं किए जा रहे हैं।